लॉकडाउन के बावजूद मस्जिदों में पढ़ी गई सामूहिक नमाज, चार शहरों में 31 पर एफआईआर

मेरठ, अमरोहा, बहराइच और बुलंदशहर में पुलिस का ऐक्शन
मेरठ में एफआईआर दर्ज कर तीन को किया गिरफ्तार
अमरोहा में 11 की गिरफ्तारी
बहराइच में मौलवी समेत 15 लोगों पर एफआईआर
बुलंदशहर दो मौलाना गिरफ्तार, जमानत पर छोड़ गए

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में एकतरफ सरकार और जनता खतरनाक कोरोना वायरस से बचने की जद्दोजहद कर रही है, वहीं लॉकडाउन के ऐसे गंभीर वक्त में कुछ लोग की लापरवाही दिखा रहे हैं। उलेमा, इस्लामिक संस्थानों के साथ पुलिस प्रशासन की तमाम अपीलों को दरकिनार कर मेरठ, अमरोहा, बुलंदशहर और बहराइच में बड़ी संख्या में लोगों ने मस्जिद में सामूहिक नमाज पढ़ी। पुलिस ने इस पर एक्शन करते हुए एफआईआर दर्ज की। इसके बाद मेरठ इमाम समेत तीन लोग, अमरोहा में 11 लोग, बुलंदशहर में दो लोग और बहराइच में मौलवी सहित 15 अज्ञात लोगों के विरुद्ध मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू की।

पूरे उत्तर प्रदेश में इस वक्त कोरोना वायरस की वजह से 14 अप्रैल तक लॉकडाउन है। लॉकडाउन के दौरान आवयश्क सेवाओं को छोड़कर बाकी आपको घर में ही रहना पड़ता है। कुछ लोग इस गंभीर परिस्थिति को नजरांदाज कर सामूहिक रुप से नमाज अता कर रहे थे।

मेरठ में नगर निगम सीमा क्षेत्र डाबका में स्थित एक मस्जिद में करीब 200 लोगों की नमाज पढ़ाई गई। जिसके बाद पुलिस ने इमाम समेत तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया। लोगों की सूचना पर पुलिस ने जाकर वीडियोग्राफी कराई। इंस्पेक्टर कंकरखेड़ा विजेंद्र पाल सिंह ने बताया कि मस्जिद के मौलाना मौहम्मद सलीम, डाबका के सुलेमान और मौहम्मद शहजाद को गिरफ्तार किया है।

अमरोहा में 11 अरेस्ट:- अमरोहा में लॉकडाउन के आदेश का पालन कराने के लिए एसडीएम शहर में घूम रहे थे। इस दौरान जामा मस्जिद काफी लोग नमाज पढ़ रहे थे। एसडीएम का कहना था कि लॉकडाउन में धार्मिक स्थल बंदी के आदेश हैं। थाना प्रभारी सर्वेंद्र शर्मा ने 11 लोगों को गिरफ्तार कर लिया। धारा 188 और संक्रामक रोग फैलाने में सहायक बनने की धाराओं के तहत रिपोर्ट दर्ज की।

प्रतिष्ठित मुस्लिम धार्मिक संस्थान दारूल उमूल देवबंद, जामा मस्जिद दिल्ली, फतेहपुरी मस्जिद, शिया और बरेली मलक के उलेमा, नदवा ने मस्जिद के बजाए घरों में नमाज पढ़ने की अपील की हैं। सऊदी अरब की मस्जिदों में नमाज की मनाही कर घरों पर पढ़ने का हुक्म का हवाला दिया।

बहराइच में मौलवी समेत 15 लोगों पर एफआईआर :- बहराइच में तमाम हिदायतों के बाद भी रिसिया थाना क्षेत्र के कस्बे आजाद नगर में बुधवार शाम मौलवी इमरान खान लोगों की भीड़ के साथ मस्जिद में नमाज अता कर रहे थे। रिसिया थानाध्यक्ष पीपी पांडे ने बताया कि लॉकडाउन के दौरान भीड़ इकट्ठा कर नमाज अता की जा रही थी, जो नियमों के विरुद्ध था। इस प्रकरण में मौलवी सहित 15 अज्ञात लोगों के विरुद्ध मामला दर्ज किया गया है।

बुलंदशहर दो मौलाना की गिरफ्तारी के बाद बेल :- बुलंदशहर के डिबाई थाना क्षेत्र में बुधवार को दो मस्जिदों में भारी तादाद में लोगों ने नमाज अता की। मुखबिर की सूचना पर पुलिस तत्काल मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने दोनों मस्जिद के मौलानाओं के खिलाफ डिबाई थाने में एफआईआर दर्ज की और दोनों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने मुकदमा दर्ज करने के कुछ समय बाद उनको जमानत भी दे दी। साथ ही कड़ी चेतावनी दी कि अगर आगे से कोई भी धार्मिक स्थलों पर पूजा पाठ या नमाज पढ़ने के लिए जाएगा तो उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

Corona virus coronavirus
Show More
Mahendra Pratap Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned