आखिरकार सड़क पर बने ये सफेद गोले हैं क्या, लखनऊ पुलिस का इससे क्या है रिश्ता?

सड़क पर बने इन सफेद गोले को देख मन में एक सवाल कौंध रहा होगा, आखिर यह क्या है! यह व्यक्ति इसके बीच में क्यों खड़ा हुआ है। और लखनऊ पुलिस इस बात की निगरानी कर रही है। माजरा क्या है। आज के वक्त में यह सवाल बेहद अहम है।

लखनऊ. सड़क पर बने इन सफेद गोले को देख मन में एक सवाल कौंध रहा होगा, आखिर यह क्या है! यह व्यक्ति इसके बीच में क्यों खड़ा हुआ है। और लखनऊ पुलिस इस बात की निगरानी कर रही है। माजरा क्या है। आज के वक्त में यह सवाल बेहद अहम है।

कोरोना वायरस को लेकर उत्तर प्रदेश में 14 अप्रैल तक लॉकडाउन कर दिया गया है। वजह यह है की कोरोना वायरस सिर्फ बहाना चाहता है कि आप चूक करें और वह अपनी गिरफ्त में दबोच ले। उत्तर प्रदेश में बुधवार तक 38 कोरोना पाजिटिव हैं। और इसकी संख्या धीरे-धीरे बढ़ रही है।

आखिरकार सड़क पर बने ये सफेद गोले है क्या, लखनऊ पुलिस का इससे क्या है रिश्ता?

लखनऊ की उन सड़कों पर जिस जगह बाजार है वहां पर इन गोलों को बनाया गया है। और लखनऊ पुलिस ने इसकी जागरुकता फैलाने की जिम्मेदारी खुद संभाली है। जिस जागरुकता को लखनऊ पुलिस फैलाना चाह रही है उसे कहते हैं सोशल डिस्टेंसिंग। जिस का जिक्र प्रधानमंत्री ने 24 मार्च के भाषण में भी किया था।

लखनऊ में लॉकडाउन के बीच जिन दुकानों पर लोगों की भीड़ दिख रही है, वहां पुलिस की टीमें लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग के प्रति जागरुक कर रही है। खास बात ये कि तमाम दुकानों के बाहर फर्श पर गोले बनाकर लोगों को उसमें खड़ा करते हुए दूर-दूर रखा जा रहा है।

वैसे तो लखनऊ पुलिस आम लोगों को घर में रहने के लिए प्रेरित कर रही है पर आवश्यक सामानों के लिए यह रियायत दी गई है। अब तो यूपी सरकार ने भी बाजार में आदमी न दिखें और वह घरों में रहें यानि की फुल लॉकडाउन हो इसके लिए कई सहूलियतें प्रदान कर रही है। कई निजी कम्पनियों को यह जिम्मेदारी सौंपी है कि कॉल के जरिए घर में सामान पहुंच देंगे।

कोरोना से लड़ने के लिए जिला प्रशासन के निर्देश पर राजधानी लखनऊ में सिविल डिफेंस ने ही पहले इस कार्य की शुरूआत की। दुकानों के आगे ग्राहकों के बीच 4-5 फीट का अंतर करने को चूने का घेरा बनाया गया है। चीफ वार्डन अमरनाथ मिश्रा की अगुवाई में शहर के 13 डिविजन के 1800 वार्डन दुकानों पर मोर्चा संभालें हैं। शुरूआत चौक और मुलायम नगर से हुई। गोमतीनगर के पत्रकारपुरम में भी दुकानों के आगे घेरे बनाए गए हैं। पुलिस भी इसमें पूरा सहयोग कर रही है।

सोशल डिस्टेंसिंग की जागरुकता पूरे प्रदेश में फैलाई जा रही है। नोएडा में इस तरह का प्रयास चल रहा है। कोरोना वायरस से बचने के लिए जनता का सहयोग, सिविल डिफेंस, और पुलिस को सलाम है।

coronavirus
Mahendra Pratap Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned