उत्तर प्रदेश में 38 कोरोना वायरस पाजिटिव, डाक्टर ने कहा, पीलीभीत में दूसरे पाजिटिव का मिलना बड़े खतरे की तरफ इशारा

बॉलीवुड गायिका कनिका कपूर की तीसरी रिपोर्ट पॉजिटिव
उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस पाजिटिव मरीजों की कुल संख्या 38
पीलीभीत में युवक का कोरोना वायरस पाजिटिव होना बड़े खतरे की तरफ इशारा
युवक बाहर नहीं गया, मतलब वायरस अपने नजदीकी से मिला
लखनऊ में कोई नया केस नहीं मिला

By: Mahendra Pratap

Updated: 25 Mar 2020, 02:39 PM IST

लखनऊ. उत्तर प्रदेश कोरोना वायरस अपने पैर फैलाने को बैचैन है। योगी सरकार भी कोरोना वायरस को फैलने से रोकने में अपना पूरा प्रयास कर रही है। बावूजद इसके कोरोना वायरस पाजिटिव मरीजों में इजाफा हो रहा है। पीलीभीत में उमरा गई कोरोना वायरस पाजिटिव महिला का पुत्र भी इस खतरनाक बीमारी के चपेट में आ गया है। उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस पाजिटिव मरीजों की कुल संख्या 38 हो गई है। युवक की जांच रिपोर्ट एक बड़े खतरे की तरफ इशारा कर रही है। यह युवक कहीं बाहर नहीं गया था। यह प्रदेश में कोरोना वायरस के थर्ड स्टेज का इशारा है। संजय गांधी पीजीआई लखनऊ में भर्ती बॉलीवुड गायिका कनिका कपूर की तीसरी रिपोर्ट भी पॉजिटिव आ गई है। कनिका की देखभाल में छह नर्सें लगी हुई हैं, जो चार-चार घंटे की ड्यूटी कर रही हैं। इसीके साथ कोरोना वायरस पॉजिटिव के लिए बनाए गए एकीकृत कोविड पोर्टल पर हर जिले की सूचनाएं अपलोड की जाएंगी। मंगलवार को लखनऊ में कोई नया केस नहीं मिला।

पीलीभीत में मक्का से उमरा कर लौटी पहली कोरोना वायरस पाजिटिव महिला के बेटे की जांच रिपोर्ट पाजिटिव आ गई है। केजीएमयू लखनऊ भेजी गई पति, बेटे, बहू व किराएदार में से बाकी तीन की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है। जिला अस्पताल के सीएमएस डॉ. रतनपाल सिंह सुमन ने बताया कि संक्रमित महिला और उसके बेटे की हालत गंभीर नहीं है। हम बेहतर इलाज से दोनों मरीजों की रिपोर्ट नेगेटिव कराने में सफल हो सकेंगे। पीलीभीत में यह दूसरा केस रजिस्टर किया गया है। केजीएमयू से मंगलवार देर रात यह रिपोर्ट आई थी।

केजीएमयू ने कहा यह गंभीर लक्षण :- सीएमओ डॉ. सीमा अग्रवाल ने बताया कि दोनों संक्रमित को आइसोलेशन वार्ड में डॉक्टरों की निगरानी में रखा है। उनके साथ के 35 लोग क्वारंटाइन भवन में रखे गए हैं। पीलीभीत के डीएम वैभव श्रीवास्तव ने दूसरे मरीज के तौर पर महिला के बेटे में कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि की। लखनऊ के किंग जार्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी के प्रवक्ता डॉक्टर सुधीर सिंह ने बताया कि संक्रमित युवक तो कहीं बाहर भी नहीं गया। उसका सैंपल पॉजिटिव आया है। इसका मतलब उसको वायरस अपने नजदीकी से मिला है। यह गंभीर लक्षण हैं।

95 संदिग्ध मरीजों की जांच रिपोर्ट आना बाकी :- उत्तर प्रदेश में मंगलवार को कोरोना वायरस से संक्रमित चार और लोगों का पता चला है। इनमें तीन लोग नोएडा और एक शामली के हैं। मंगलवार को 72 संदिग्ध को विभिन्न अस्पतालों में भर्ती कराया गया। संक्रामक रोग विभाग के संयुक्त निदेशक डॉ विकासेंदु अग्रवाल ने बताया कि अभी तक कुल 1625 संदिग्ध मरीजों के नमूने जांच के लिए विभिन्न लैब में भेजे जा चुके हैं और इनमें से 1493 संदिग्ध मरीजों की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है। वही 95 संदिग्ध मरीजों की जांच रिपोर्ट अभी आना बाकी है। प्रदेश में अभी तक कोरोना वायरस से संक्रमित जो 38 लोग पाये गए हैं, उनमें नोएडा के 11, आगरा व लखनऊ के आठ-आठ, गाजियाबाद के तीन, पीलीभीत के दो और लखीमपुर खीरी, मुरादाबाद, वाराणसी, कानपुर, जौनपुर व शामली के एक-एक लोग हैं। इसके साथ ही अभी तक कोरोना पॉजिटिव 11 को स्वस्थ घोषित कर अस्पतालों से डिस्चार्ज किया जा चुका है।

कनिका कपूर की तीसरी रिपोर्ट पॉजिटिव:- लखनऊ के संजय गांधी पीजीआई में भर्ती बॉलीवुड गायिका कनिका कपूर की तीसरी रिपोर्ट भी पॉजिटिव आ गई है। उनकी सेहत में अभी किसी भी प्रकार का सुधार नहीं हो रहा है। पीजीआई के डॉक्टर डायरेक्टर आर. के धीमन ने कहा कि कनिका के लगातार टेस्ट हो रहे हैं और उनका इलाज तब तक जारी रखा जाएगा जब तक उनके लगातार दो टेस्ट नेगेटिव नहीं आ जाते। इससे पहले सोमवार को भी कनिका का दूसरा टेस्ट करवाया गया था जो कि पॉजीटिव आया था। हालांकि दूसरा टेस्ट कनिका के परिवार की ज़िद के कारण करवाया गया था।

कनिका के लिए छह नर्सें तैनात :- पीजीआइ में छह नर्सें, चार-चार घंटे की शिफ्ट में बॉलीवुड सिंगर कनिका कपूर की देखभाल के लिए तैनात हैं। कनिका की देखभाल में नर्सों को भी बड़ी सावधानी रखनी पड़ती है। ये नर्सें पीपीई किट पहनती हैं, जिसे पहनने और उतारने में काफी समय लगता है। यह ख्याल रखना पड़ता है कि शरीर के किसी भी हिस्से से किट का बाहरी हिस्सा न छू जाए। पीपीई किट को एक अलग पैकेट में रखकर डिस्पोज ऑफ करने के लिए जला दिया जाता है।

घर जाने की मनाही :- कोरोना वायरस के गंभीर मरीज के लिए इन नर्सों के अतिरिक्त एक और नर्स की ड्यूटी लगानी पड़ती। कोरोना वार्ड में लगे कर्मचारियों को घर जाने की अनुमति नहीं है। शिफ्ट खत्म होने के बाद वह संस्थान परिसर में बने विश्राम स्थल पर ही रहते हैंं। वहीं खाने पीने का भी इंतजाम है।

लखनऊ में कोई नया केस नहीं मिला :- शहर के चिकित्सा संस्थानों में कोरोना के संदिग्ध मरीजों की जांच जारी है। मंगलवार को लखनऊ में कोई नया केस नहीं मिला। राजधानी में संदिग्ध मरीजों की स्क्रीनिंग जारी है। विदेश से लौटे लोगों का घरों से सैंपल कलेक्शन किया जा रहा है। सीएमओ की टीम ने सोमवार को 25 सैंपल जांच के लिए केजीएमयू भेजे थे। सभी की रिपोर्ट निगेटिव आई है। ऐसे में शहर में चार दिनों से कोई पॉजिटिव मरीज नहीं मिला है।

कोविड पोर्टल प्रतिदिन होगा अपडेट :- केंद्र सरकार के कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों से संबंधित जानकारी के लिए बनाए गए एकीकृत कोविड पोर्टल पर हर जिले की सूचनाएं अपलोड की जायेंगी। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के निदेशक विजय विश्वास पंत ने बताया कि सभी 18 मंडलों में महाप्रबंधक से लेकर डाटा एनालिस्ट तक की ड्यूटी लगाई गई है। हर दिन दोपहर को दो बजे कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों के बारे में सूचनाएं अपलोड करेंगे। इसमें गोरखपुर, देवीपाटन, आजमगढ़, लखनऊ, अयोध्या व सहारनपुर मंडल में महाप्रबंधक व उप महाप्रबंधक स्तर के अधिकारियों की ड्यूटी लगाई गई है इसके अलावा अन्य मंडलों में परामर्शदाता प्रोग्राम कोऑर्डिनेटर व डाटा एनालिस्ट तैनात किए गए हैं। या हर दिन सूचनाएं अपडेट करेंगे। जिससे कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों ठीक और बेहतर निगरानी व इलाज किया जा सके।

Corona virus coronavirus
Show More
Mahendra Pratap Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned