उप्र सरकार पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम का निजीकरण करने पर आमादा : हीरालाल यादव

भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) उत्तर प्रदेश राज्य कमेटी राज्य सचिव हीरालाल यादव ने सरकार पर साधा निशाना

By: Mahendra Pratap

Published: 24 Aug 2020, 04:29 PM IST

लखनऊ. पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम के निजीकरण का विरोध करते हुए भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) उत्तर प्रदेश राज्य कमेटी राज्य सचिव हीरालाल यादव ने सोमवार को कहाकि केन्द्र सरकार ने विद्युत अधिनियम संशोधन 2020 से विद्युत क्षेत्र के संपूर्ण निजीकरण के माध्यम से जनता को लूटकर निजी कंपनियों को मुनाफा दिलाना चाहती है। उप्र सरकार पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम का निजीकरण करने पर आमादा है।

हीरालाल यादव ने कहाकि, उत्तर प्रदेश में आगरा और नोएडा में निजी विद्युत कंपनियां वितरण का काम कर रही हैं, जिनसे वहां के उपभोक्ता त्रस्त हैं और कंपनियां मुनाफा कमा रही हैं। निजी कंपनियों से महंगी बिजली खरीदकर कर सरकार उपभोक्ताओं पर बिजली दरों की वृद्धि का बोझ लाद रही है। निजीकरण के पश्चात बढ़ी दरों पर आम उपभोक्ताओं के लिए बिजली पाना मुश्किल हो जायेगा।

उप्र विधानसभा में भाजपा सरकार के पास कराये गये श्रमिक विरोधी विधेयकों का कड़ा विरोध करते हुए हीरालाल यादव ने कहाकि, भाजपा की योगी सरकार श्रमिक विरोधी है। आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं एवं सहायिकाओं जो कोरोना के समय में भी बिना किसी सुरक्षा उपकरण के खतरा झेलते हुए दिन-रात सेवा में लगी हैं, उनकी बड़े पैमाने पर छंटनी को तत्काल रोका जाए। सरकार से अपील की है कि इस सम्बन्ध में आंगनवाड़ी कर्मियों की यूनियनों की रखी गयी मांगों को स्वीकार करे।

Show More
Mahendra Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned