सावधान, एटीएम कार्ड की क्लोनिंग कर बैंक खाता खाली करने वाला गिरोह सक्रिय, चार गुर्गे दबोचे गए

- पूछताछ में राज उगला कि, कैसे वह एटीएम होल्डर को बनाते हैं निशाना

By: Mahendra Pratap

Published: 03 Jul 2021, 01:00 PM IST

लखनऊ. cyber crime gang active अगर सुनसान इलाके में एटीएम बूथ लगा हो तो सावधान। पहले तो पैसे निकलने से बचें और अगर बहुत जरूरी है तो जांच लें की एटीएम बूथ में सीसीटीवी कैमरे लगा है और चल रहा या नहीं। नहीं तो जरा सी लापरवाही आपके बैंक खाते को खाली कर देगी। और आप हैरान जाएंगे। राजधानी लखनऊ में पुलिस की तेजी की वजह से एटीएम कार्ड की क्लोनिंग कर बैंक खाता खंगालने वाला गिरोह पकड़ा गया। आईजी रेंज, एसपी ग्रामीण बीकेटी की टीम ने चार शातिरों को गिरफ्तार किया है, और पूछताछ में उसने यह राज उगला कि कैसे वह एटीएम होल्डर को निशाना बनाते हैं।

मौसम विभाग का अगले 24 घंटे में यूपी में बारिश का अलर्ट

चारों को जेल भेजा :- लखनऊ पुलिस ने इन चारों शातिर के पास से तलाशी में कार से एक लैपटॉप, एक स्कीमर, एक कार्ड रीडर, एक डेबिड कार्ड राइटर डिवाइस, 39 अलग-अलग बैंकों के एटीएम कार्ड और दो नंबर प्लेट बरामद की। पुलिस ने चारों को जेल भेज दिया है।

जालसाज पकड़े गए :- एसपी ग्रामीण हृदयेश कुमार ने बताया कि, आईजी रेंज लक्ष्मी सिंह के सर्विंलांस प्रभारी अमर सिंह रघुवंशी, एसपी ग्रामीण की क्राइम टीम और इंस्पेक्टर बीकेटी योगेंद्र कुमार सिंह ने बृहस्पतिवार देर शाम को बीकेटी के इंदौराबाग में कार सवार जालसाजों को दबोचा। आरोपियों में प्रतापगढ़ के जेठवारा स्थित पतुलकी निवासी धर्मेंद्र यादव, काच्छापुरै दुल्हेपुर का उमेश कुमार यादव, पूरे पांडेय का भूपेंद्र सिंह उर्फ आशीष सिंह और पूरे बसई लालगंज अजहारा का आलोक कुमार कोरी है।

जानें कैसे खाली करते हैं बैंक खाता :- पूछताछ में आरोपियों बताया कि, सुनसान इलाके वाला एटीएम बूथ उनके निशाने पर होते हैं, जहां सीसीटीवी कैमरे खराब हों या नहीं लगे रहते हैं। ऐसे बूथ पर वह स्किमर लगा देते हैं। इसके जरिए वह लोगों की कार्ड की डिटेल हासिल कर लेते हैं। इसके बाद ब्लैंक एटीएम कार्ड से क्लोनिंग बनाकर खाता खाली कर देते हैं।

Show More
Mahendra Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned