वफादारी का अनुपम उदाहरण : मालिक का शव देख चौथी मंजिल से कूद गई, दूसरे ने अपने मलिक के मर्डर की खबर रिश्तेदारों तक इस ढंग से पहुंचाई

वफादारी का सबसे बड़ा उदाहरण कुत्ता है। ये दो घटनाएं कुत्ते के प्रति आपके लगाव को और बढ़ा देंगी।

By: Mahendra Pratap

Published: 02 Jul 2020, 06:18 PM IST

लखनऊ. वफादारी का सबसे बड़ा उदाहरण कुत्ता है। ये दो घटनाएं कुत्ते के प्रति आपके लगाव को और बढ़ा देंगी। एक घटना में अपनी मालिकन की मौत के बाद कुत्ते ने बेइंतहा लगाव की वजह से घर की चौथी मंजिल से छलांग लगाकर अपनी जान दे दी। और दूसरी घटना भी हैरान करने वाली है। जिसमें जब उसके मालिक की हत्या हो जाती है तो वह रिश्तेदारों के पास पहुंचकर अनूठे तरीके से उन्हें आगाह करता है।

वफादारी का अनुपम उदाहरण : मालिक का शव देख चौथी मंजिल से कूद गई, दूसरे ने अपने मलिक के मर्डर की खबर रिश्तेदारों तक इस ढंग से पहुंचाईवफादारी का अनुपम उदाहरण : मालिक का शव देख चौथी मंजिल से कूद गई, दूसरे ने अपने मलिक के मर्डर की खबर रिश्तेदारों तक इस ढंग से पहुंचाई

उत्तर प्रदेश में कानपुर के बर्रा-2 निवासी डॉ. अनीता राज सिंह स्वास्थ्य विभाग में संयुक्त निदेशक थीं। लंबे समय से बीमार थीं। इलाज के दौरान बुधवार को उनकी मौत हो गई। बेटे तेजस ने बताया कि 12 साल पहले उसर्ला अस्पताल के पास से एक कुत्ते के बच्चे को बेहद खराब हालात में मां घर ले आईं। और उसका नाम जया रखा। तेजस के अनुसार जया से मां का गहरा लगाव था। वह उनके आगे-पीछे ही घूमती रहती थी।

मालिकन का शव देखा और चौथी मंजिल से कूद गई:- इधर कुछ दिनों से जया अपनी मालकिन से नहीं मिली थी इसलिए परेशान रहती थीं। जिस समय परिजन डॉ. अनीता का शव लेकर घर पहुंचे उस समय जया चौथी मंजिल पर थी। मालकिन का शव देखकर जया खुद को रोक नहीं पाई और उसने छलांग लगा दी। परिजन उसे लेकर डॉक्टर के पास गए लेकिन तब तक उसकी मौत हो गई थी। ऊंचाई से कूदने से उसकी रीढ़ की हड्डी टूट गई थी।

सम्मान मिला :- कुत्ते का शव भी मालकिन के शव के पास ही रखा गया था और मालकिन के अंतिम संस्कार के बाद देर रात पालतू मादा कुत्ते जया को भी विधिवत घर के समीप ही दफना दिया गया। डॉ. अनीता के पति हमीरपुर के सीएमओ डॉ. आरके सचान ने बताया कि मेडिकल कालेज को देह दान करने की इच्छा कोरोना के कारण पूरी नहीं हो पाई।

हत्या की सूचना रिश्तेदारों को पहुंचाई :- मुरादाबाद में एक पालतू कुत्ते का किस्सा हैरान कर देने वाला है। मालिक की हत्या होने पर उसने ऐसा कर दिखाया जिसके बारे में कोई अंदाजा नहीं लगा सकता है। मामला कुछ ऐसा है कि मुरादाबाद के थाना ठाकुरद्वारा कोतवाली के पीपल टोला मुहल्ले में मोहित वर्मा की शादी मोना वर्मा से हुई थी। थोड़ी ही दूरी पर मोहित के भाई संजय का घर है। सोमवार देर रात मोहित का पालतू कुत्ता जिंजर अकेला ही भाई संजय के घर पहुंच गया और वहां जाकर जोर-जोर से भौंकने लगा। संजय और उसका परिवार हैरत में पड़ गया। इसके बाद संजय ने मोहित को कॉल किया लेकिन मोबाइल पर कॉल रिसीव नहीं हुई तो अपने बेटे को मोहित के घर भेजा। घर पहुंचा कर बेटे ने जो देखा उससे वह चौंका गया। मोहित व उसकी पत्नी मृत अवस्था में पड़े थे। सूचना पर पुलिस पहुंची।

अजीब हरकतें से चौंके :- पूछताछ करने पर अभी तक हत्या की कोई वजह पता नहीं चली है। मृतक के भाई संजय ने बताया कि रात में अचानक भाई मोहित का कुत्ता जिंजर आ गया। मैंने बेटे से कहा कि आज अचानक यह कैसे आ गया इसको पानी पिलाओ पर वह अजीब हरकतें करने लगा। संजय ने बताया, 'मैंने भाई को फोन किया पर फोन नहीं उठा तो मैंने अपने बेटे को भाई के घर भेजा। उसने बताया कि दरवाजे खुले हुए हैं। अंदर जाकर देखा तो दोनों जमीन पर मृत पड़े मिले।' एसएसपी के अनुसार घर के अंदर का सामान अस्त-व्यस्त था। दोनों पति-पत्नी की हत्या की गई है। फिलहाल फरेंसिक टीम को बुलाकर मौके से साक्ष्य जमा कराए गए हैं।

Show More
Mahendra Pratap Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned