इटावा के पर्यटन उद्योग को ख़त्म करने का प्रयास : अखिलेश यादव

इटावा लायन सफारी से दो शेर सीएम योगी आदित्यनाथ के गृह जनपद गोरखपुर भेजे जाएंगे

By: Mahendra Pratap

Published: 01 Mar 2021, 05:34 PM IST

लखनऊ. इटावा लायन सफारी से दो शेर सीएम योगी आदित्यनाथ के गृह जनपद गोरखपुर भेजे जाएंगे। इसकी तैयारी शुरू हो गई है। इस मुद्दे पर सीएम योगी पर निशाना साधते हुए समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहाकि, इटावा लायन सफारी से शेरों को गोरखपुर भेजना इटावा के पर्यटन उद्योग को ख़त्म करने का प्रयास है।

एलपीजी सिलेंडर की कीमतें फिर बढ़ी, लखनऊ में किस दाम पर मिलेगा जानिए

समाजवादी पार्टी सुप्रीमो अखिलेश यादव ने अपने ट्विट पर लिखा कि, इटावा लायन सफारी से शेरों को गोरखपुर भेजना इटावा के पर्यटन उद्योग को ख़त्म करने का प्रयास है। इटावा में रोज़ी-रोज़गार बचाने लिए सपा शेरों के स्थानांतरण के विरोध में इटावा की जनता के साथ है। भाजपा सरकार को गोरखपुर में शेरों के लिए वैकल्पिक व्यवस्था करनी चाहिए।

इटावा लायन सफारी पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के कार्यकाल में बना था। इटावा सफारी पार्क का निर्माण मई 2012 में 295 करोड़ रुपए से हुआ था। इस पर सपाइयों ने मुख्यमंत्री योगी पर निशाना साधते हुए कहाकि, कुंठित मानसिकता वाली सरकार इटावा सफारी पार्क को शुरू ही नहीं करना चाहती है।

Show More
Mahendra Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned