किसानों के लिए खुशखबरी, मार्च के बाद आम और फल का नहीं होगा नुकसान

- लखनऊ में खुलेगी यूपी की पहली आम और फल की वातानुकूलित मंडी
- मार्च के आखिर में हो जाएगी शुरू, सीएम योगी करेंगे उद्घाटन

By: Mahendra Pratap

Published: 25 Feb 2021, 05:37 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के किसानों के लिए एक बड़ी खुशखबरी है। योगी सरकार ने करीब 70 करोड़ रुपए की लागत से यूपी की पहली सेंट्रलाइज्ड एसी युक्त अत्याधुनिक आम-फल मंडी तैयार की है। यह मंड़ी दशहरी आम के लिए देश में मशहूर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के मलिहाबाद क्षेत्र में बनाई गई है। इसमें 76 वातानुकूलित दुकानें हैं। यह वातानुकूलित आम-फल मंडी मार्च के अंत में शुरू हो जाएगी। और इसका उद्घाटन सीएम योगी करेंगे।

बढ़ती महंगाई पर यूपी की जनता के दर्द को लेकर प्रियंका गांधी ने भाजपा को दिखाया आईना

पांच हजार मीट्रिक टन रखने की क्षमता :- मलिहाबाद में प्रदेश की पहली वातानुकूलित आम एवं फल मंडी बनकर तैयार हो गई है। सिर्फ दुकानें ही नहीं यह पूरी अत्याधुनिक मंडी सेंट्रलाइज्ड एसी युक्त है। आमतौर पर अभी तक फल और आम मंडी में भंडारण की विशेष सुविधाएं नहीं होती थी। जिस वजह से माल खराब होने के आसार बने रहते थे। पर इस नवीन एसी मंडी में न केवल माल के स्टोरेज की व्यवस्था की गई है बल्कि इसमें पांच हजार मीट्रिक टन फल एवं आम रखने की क्षमता है। रैपनिंग चैंबर जरिए फल लंबे समय तक ताजे रह सकेंगे। रैपनिंग चैंबर तापक्रम मेंटेंन रखता है।

किसानों के लिए ढेर सारी सुविधाएं :- मलिहाबाद के नाम से ही पता चल जाता है कि सरकार ने पहले इसे सिर्फ फलों के राजा आम के लिए ही इस एसी मंडी का निर्माण किया था। पर अब इसे आम और फल मंडी के रुप में बदल दिया गया है। क्योंकि आम का कारोबार कुछ माह का होता है इसलिए इस मंडी में फलों के कारोबार की भी अनुमति दे दी गई है। मलिहाबाद में बनी इस एसी मंडी में 76 वातानुकूलित दुकानें बनाई गई हैं। वातानुकूलित आम-फल मंडी में कई सुविधाएं उपलब्ध कराई गई है। मंडी में बाहर से आने वाले किसानों को रुकने के लिए गेस्ट हाउस और कैफेटेरिया भी बनाया गया है। जिससे किसानों को अच्छे खाने के साथ अच्छी रुकने की व्यवस्था भी मिल सके।

लम्बे समय तक बनी रहेगी गुणवत्ता :- मंडी सचिव संजय सिंह ने बताया कि, एसी मंडी तैयार हो गई है। नई अत्याधुनिक मशीनों से युक्त प्रदेश की यह पहली मंडी होगी जो यूपी ही नहीं देश में अपनी अलग पहचान बनाएगी। प्रदेश सरकार यहां किसानों और उनकी फसल के लिए अत्याधुनिक सुविधाएं उपलब्ध करा रही है। इसमें मशहूर दशहरी, सफेदा समेत कई वैरायटी वाले आम का कारोबार होगा। साथ ही यहां से फलों का बड़ा कारोबार देश-विदेश में किया जाएगा। नई तकनीकीयुक्त मशीनें मंडी में लगाई गई हैं। जिस वजह से आम और फल खराब नहीं होंगे और लम्बे समय तक उनकी गुणवत्ता बनी रहेगी।

Mahendra Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned