खुशखबर, स्कूलों के प्रधानाचार्यों को मुफ्त मिलेगा टैबलेट

- सरकारी हाईस्कूल/इंटर कॉलेजों के प्रधानाचार्यों को उत्तर प्रदेश सरकार तकनीकी रूप से मजबूत बनाने की कर रही है तैयारी

By: Sanjay Kumar Srivastava

Published: 20 Sep 2021, 05:37 PM IST

लखनऊ. सरकारी हाईस्कूल/इंटर कॉलेजों के प्रधानाचार्यों को उत्तर प्रदेश सरकार तकनीकी रूप से मजबूत बनाने की तैयारी कर रही है। इसलिए योगी सरकार अब स्कूलों के प्रधानाचार्यों को मुफ्त टैबलेट बांटेगी। सूबे के कुल 2285 सरकारी स्कूल में से 2204 सरकारी हाईस्कूल/इंटर कॉलेजों के प्रधानचार्यों का चयन कर लिया गया है। हर स्कूल को प्रति टैबलेट 10 हजार रुपए दिए जाएंगे। इस मद में सरकार को दो करोड़ रुपए खर्च करने पड़ेंगे।

काम में होगी आसानी :- यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने अनुपूरक बजट में ग्रेजुएशन, पोस्ट ग्रेजुएशन और डिप्लोमा कोर्स कर रहे छात्र-छात्राओं को स्मार्टफोन और टैबलेट देने के लिए धन की व्यवस्था की थी। इसके साथ ही अब योगी सरकार 2204 प्रधानाचार्यों को टैबलेट देने जा रही है। प्रधानाचार्य शुरू में लर्निंग आउटकम समेत यूपी बोर्ड के रिजल्ट का विश्लेषण भी इसी पर करेंगे। साथ ही टैबलेट स्कूल में होने से कई तरह के काम स्कूल स्तर पर ही किए जा सकेंगे। इससे निरीक्षण की रिपोर्ट, अवस्थापना सुविधाएं व अन्य कई तरह की जानकारियों का आदान-प्रदान मिनटों में हो जाएगा।

पंजाब के नए सीएम पर बोलीं मायावती, कांग्रेस को मजबूरी में ही आती है दलितों की याद

परफार्मेंस ग्रेडिंग इण्डेक्स शुरू :- केन्द्र सरकार ने परफार्मेंस ग्रेडिंग इण्डेक्स की शुरुआत की है और इसके तहत हर सरकारी स्कूल में कई तरह की सुविधाएं दी जा रही हैं। टैबलेट भी इनमें से एक है।

प्राइमरी स्कूलों को भी मिलेगा टैबलेट :- प्राइमरी शिक्षा में सभी 1,59,043 सरकारी स्कूलों, 880 खण्ड शिक्षा अधिकारियों और 4400 अकादमिक रिसोर्स पर्सन (एआरपी) को ये टैबलेट दिए जाएंगे। इससे स्कूलों की मॉनिटरिंग आसान होगी बल्कि शिक्षकों की हाजिरी भी बायोमीट्रिक तरीके से ली जा सकेगी।

Sanjay Kumar Srivastava
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned