scriptLucknow Maulana Khalid Rashid Farangi Mahli eid ul azha guideline Rele | ईद-उल-अजहा की गाइडलाइन जारी | Patrika News

ईद-उल-अजहा की गाइडलाइन जारी

- मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली ने कहा, हाथ मिलाने और गले लगाने से परहेज करें

लखनऊ

Published: July 18, 2021 11:13:08 am

लखनऊ. eid-ul-azha बकरीद 21 जुलाई को मनाई जाएगी। कोरोना का वक्त चल रहा है। ईद उल जुहा किस सावधानी से मनाए इस पर इस्लामिक सेंटर आफ इंडिया चेयरमैन व इमाम ईदगाह मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली ने गाइडलाइन जारी किया। मौलाना ने कहाकि, बकरीद पर मस्जिद में 50 से अधिक लोग एकत्र होकर नमाज न पढ़ें। हाथ मिलाने और गले लगाने से परहेज करें। ईद-उल-अजहा के दिन अंतरराष्ट्रीय स्वास्थ्य संगठन की सुरक्षा के उपायों और सरकार के नियमों का पालन करें।
ईद-उल-अजहा की गाइडलाइन जारी
ईद-उल-अजहा की गाइडलाइन जारी
मौसम विभाग का 18-20 जुलाई को झमाझम बारिश और वज्रपात का अलर्ट

ईद-उल-अजहा की गाइडलाइन क्या हैं जानें :-

- ईद गुस्ल करना, अच्छे कपड़े पहनना, खुशबू तेल, और सुरमा लगाना सुन्नत।
- ईदगाहों और मस्जिदों में प्रशासन की गाइडलाइन के अनुसार सिर्फ 50 लोग नमाज अता करें।
- ईद-उल-अजहा की नमाज में भी मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग का विशेष ख्याल रखें।
- ईद की नमाज के बाद खुतबा पढ़ना सुन्नत, अगर किसी को खुतबा याद न हो और खुतबे की कोई किताब भी न हो तो वह पहले खुतबे में सूरह फातिहा और सूरह अखलास़ पढ़े और दूसरे खुतबे में दुरूद शरीफ के साथ कोई दुआ अरबी में पढ़े।
- बकरीद पर हर साहिब-ए-हैसियत मुसलमान पर कुर्बानी करना वाजिब है।
- बकरीद से तीन दिनों 21, 22 और 23 जुलाई तक कुर्बानी करना कोई रस्म नही बल्कि खुदा पाक की पसंदीदा इबादत है। इन दिनों में इसके बदले कोई दूसरा नेक अमल नही हो सकता।
- जिन इलाकों में कानूनी बंदिशें हैं या कोशिशों के बावुजूद भी जानवर नहीं हासिल हो पा रहे हैं तो वह लोग भी अपनी रकम दूसरी जगह भेज कर कुर्बानी करा सकते हैं। अगर किसी वजह से दूसरी जगह कुर्बानी नही हो सकी तो ऐसी सूरत में कुर्बानी के दिनों के बाद कुर्बानी की कीमत के बराबर रकम सदका यानी गरीबों को देना वाजिब है।
- हमेशा की तरह उन्ही जानवरों की कुर्बानी की जाए जिन पर कोई कानूनी पाबंदी नही है।
- कुर्बानी के दौरान मास्क और दस्ताने का प्रयोग जरूर करें।
- कुर्बानी के स्थानों पर सैनेटाइजेशन व शारीरिक दूरी का पालन अवश्य करें।
- सड़क के किनारे, गली और सार्वजनिक स्थानों पर कुर्बानी न करें।
- जानवर की खालें खुदा की राह में सदका करें।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

विश्व के सबसे लोकप्रिय नेता बने PM Modi, ग्लोबल सर्वे में बाइडेन और ट्रूडो जैसे दिग्गजों को पछाड़ाCorona Update: कोरोना ने बनाया नया रिकॉर्ड, 24 घंटे में 3 लाख 47 हजार नए केस, 2.51 लाख रिकवरदिल्ली में घटते कोरोना मामलों के बीच वीकेंड कर्फ्यू हटाने का फैसला, CM अरविन्द केजरीवाल ने उपराज्यपाल को भेजा पत्र50 साल से जल रही ‘अमर जवान ज्योति’ आज से इंडिया गेट पर नहीं, राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर जलेगीT20 World Cup 2022: ICC ने जारी किया शेड्यूल, इस दिन होगी भारत-पाकिस्तान की टक्करPariksha Pe Charcha 2022: छात्र, शिक्षक अब 27 जनवरी तक कर सकते हैं आवेदनबोर्ड का नया कदम, परीक्षा के पहले भी होगा परीक्षार्थियों का टेस्टआज जारी होगा कांग्रेस का घोषणा पत्र, युवाओं के लिए होंगे कई वादे
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.