शायर मुनव्वर राणा की बेटी सुमैया राणा सपा में शामिल, बसपा के दो बड़े नेता भी साइकिल पर बैठे

मशहूर शायर मुनव्वर राणा की बेटी सुमैया राणा ने मंगलवार को समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की मौजूदगी में लखनऊ स्थित पार्टी मुख्यालय पर समाजवादी पार्टी की सदस्यता ग्रहण कर अपनी नई राजनीतिक पारी की शुरूआत की है।

By: Mahendra Pratap

Published: 29 Dec 2020, 05:56 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

लखनऊ. मशहूर शायर मुनव्वर राणा की बेटी सुमैया राणा ने मंगलवार को समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की मौजूदगी में लखनऊ स्थित पार्टी मुख्यालय पर समाजवादी पार्टी की सदस्यता ग्रहण कर अपनी नई राजनीतिक पारी की शुरूआत की है। सुमैया राणा लगातार योगी सरकार के खिलाफ अपना झंडा बुलंद कर रहीं हैं। नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ अपनी आवाज बुलंद करने के दौरान सुमैया राणा लोगों की नजर में आई। इसके अतिरिक्त बसपा से निकाले गए दो नेता सांसद प्रत्याशी मसूद खां, पूर्व विधायक रमेश गौतम ने अपने करीब 200 समर्थकों के साथ सपा ज्वाइन की।

मुकदमे वापस लिए जाएंगे :- सदस्यता समारोह पर आयोजित पत्रकार वार्ता में सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव ने कहाकि, वर्ष 2022 के विधानसभा चुनाव में ऐतिहासिक बदलाव होगा। यह सरकार जब तक नहीं जाएगी तब तक लोकतंत्र नहीं बच सकता है। अखिलेश यादव ने ऐलान किया कि अब सपा सरकार बनने पर नागरिकता संशोधन कानून व एनआरसी के खिलाफ प्रदर्शन करने वालों पर दर्ज किए गए मुकदमे वापस लिए जाएंगे।

संस्कारी पुलिसकर्मियों के जिम्मे होगी प्रयागराज में माघ मेले की सुरक्षा, हर कल्पवासी का होगा कोरोना टेस्ट

छोटे दलों के लिए दरवाजे खुले :- अखिलेश यादव ने कहाकि, छोटे दलों के लिए सपा ने अपने दरवाजे हमेशा खुले रखे हैं। हम 2022 में छोटे दलों के साथ मिलकर सरकार बनाएंगे। भाजपा सरकार, अपने विरोध में उठने वाली हर आवाज को दबाने के लिए विरोधियों पर झूठे मुकदमे लगा रही है। यह सरकार जब तक नहीं जाएगी तब तक लोकतंत्र नहीं बच सकता। अखिलेश यादव ने कहाकि, नया कृषि कानून किसानों के लिए डेथ वारंट है। किसानों को दोगुनी आय के बराबर न्यूनतम समर्थन मूल्य दिया जाए।

Show More
Mahendra Pratap Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned