जनसंख्या नियंत्रण कानून हिंदुओं के खिलाफ, मौलाना तौकीर रजा के बयान से सभी चौंके

Population Control Act - कहाकि, यूपी में अगर लागू हुआ तो चुनाव 2022 में भाजपा को होगा बड़ा नुकसान

By: Mahendra Pratap

Published: 27 Jul 2021, 08:09 PM IST

लखनऊ. Maulana Tauqir Raza says उत्तर प्रदेश में जनसंख्या कानून विवाद पर इत्तेहादे मिल्लत काउंसिल (ईएमसी) (Ittehade Millat Council ) राष्ट्रीय अध्यक्ष मौलाना तौकीर रजा (Maulana Taukir Raza) ने कहाकि, मुस्लिमों के नहीं हिंदुओं के अधिक बच्चे होते हैं, इसी कारण योगी आदित्यनाथ सरकार का यह कानून तो हिंदुओं के खिलाफ है। वैसे तो मौलाना ने जनसंख्या नियंत्रण कानून का स्वागत किया। मौलाना तौकीर रजा बरेली में वर्ष 2010 में दंगों के आरोपित हैं।

खुशखबर, इन तीन राज्य के यात्रियों को मिली यूपी सरकार से भारी छूट

बरेली की इत्तेहादे मिल्लत काउंसिल के राष्ट्रीय अध्यक्ष मौलाना तौकीर रजा ने कहाकि, जनसंख्या नियंत्रण कानून तो हिंदुओं के खिलाफ है, क्योंकि हिंदुओं के ज्यादा बच्चे होते हैं। योगी सरकार ने उन्हेंं सरकारी सुविधाओं से वंचित रखने के लिए कानून बनाया है। यह भी सच है कि मुसलमानों के दो से ज्यादा बच्चे नहीं होते हैं। इसके बाद भी उत्तर प्रदेश में उनको सरकारी सुविधाओं का लाभ नहीं मिलता है। हिंदू बहुसंख्यक हैं, सरकारी योजनाओं का ज्यादा लाभ लेते हैं। हिंदू-मुस्लिम आबादी के औसत से दो से अधिक बच्चों वाले हिंदू परिवार ज्यादा होंगे। ऐसे में पाबंदी लगेगी तो नुकसान भी उन्हीं का होगा।

कानून लागू होगा तो भाजपा को चुनाव में होगा नुकसान :- उत्तर प्रदेश सरकार सलाह देते हुए मौलाना तौकीर रजा ने कहाकि, सरकार को काफी सोच-समझकर इस कानून को लागू करना चाहिए। इस कानून के लागू होने से भाजपा को ही काफी बड़ा नुकसान होगा। अगर यह कानून लागू हो जाता है तो विधानसभा चुनाव में भाजपा की सीट काफी कम हो सकती है।

जो दंगा आयोग बनाएगा उसको समर्थन :- मौलाना तौकीर रजा ने कहा कि आने वाले चुनाव में उनकी पार्टी उसको ही समर्थन देगी जो दंगा आयोग बनाने का वायदा करेगा।

Mahendra Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned