प्लेटफॉर्म टिकट हुआ महंगा, अब 10 रुपए की जगह देने होंगे 30 रुपए

पेट्रोल, डीजल, रसोईगैस के बाद अब रेलवे ने भी प्लेटफॉर्म टिकट के दाम 10 रुपए की जगह 30 रुपए कर दिए हैं

By: Mahendra Pratap

Updated: 05 Mar 2021, 12:51 PM IST

लखनऊ. यूपी में रेल यात्रियों सतर्क हो जाएं, अब अपने रिश्तेदारों, मित्रों को ट्रेन पर बैठाने के लिए मना कर दें नहीं तो आप की जेब पर बड़ी चोट लग सकती है। पेट्रोल, डीजल, रसोईगैस के बाद अब रेलवे ने भी प्लेटफॉर्म टिकट के दाम 10 रुपए की जगह 30 रुपए कर दिए हैं वहीं देश के कई ऐसे शहर हैं जहां प्लेटफॉर्म टिकट की कीमतों में पांच गुना तक की बढ़ोत्तरी की है। प्लेटफॉर्म टिकट की सुविधा पिछले एक साल से बंद है।

होशियार, यूपी में बिक रही है नकली अदरक, अधिक साफ-सुथरी अदरक सेहत के लिए खतरनाक

इस पर रेलवे ने सफाई देते हुए कहाकि, स्टेशनों पर भीड़ का नियमन और नियंत्रण डीआरएम की जिम्मेदारी है। यात्रियों की सुरक्षा के लिए और स्टेशनों पर भीड़ को रोकने के लिए यह फैसला लिया गया है। यह एक छोटे अंतराल के लिए है। रेलवे जमीनी स्थिति का आकलन करने के बाद समय-समय पर प्लेटफॉर्म टिकट शुल्क बढ़ाता है। इसकी जिम्मेदारी लोकल डीआरएम के पास होती है। इसमें कुछ भी नया नहीं है। चारबाग रेलवे लखनऊ के पीआरओ के अनुसार, रेलवे ने प्लेटफॉर्म टिकट का दाम 10 रुपए से बढ़ाकर 30 रुपए कर दिया है।

आज से पहले एक प्लेटफॉर्म टिकट के लिए 10 रुपए अदा करना पड़ता था। पिछले एक साल से कोरोना वायरस की वजह से प्लेटफॉर्म टिकटों की बिक्री बंद कर दी गई थी। प्लेटफॉर्म टिकटों की बिक्री आज से तीन गुना बढ़े रेट के साथ खोली जा रही है। कुछ ऐसे रेलवे स्टेशन है जहां प्लेटफॉर्म टिकटों का रेट पांच गुना तक बढ़ दिया गया है। इनमें मुंबई में छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस, दादर और लोकमान्य तिलक टर्मिनस तथा पास के ठाणे, कल्याण, पनवेल और भिवंडी शामिल हैं।

Mahendra Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned