संघ और सरकार के बीच तालमेल पर लखनऊ में हुई बैठक

- राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के समन्वय बैठक में उत्तर प्रदेश भाजपा की कोर कमेटी ने हिस्सा लिया

By: Mahendra Pratap

Published: 18 Jul 2021, 05:06 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

लखनऊ. राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के समन्वय बैठक में उत्तर प्रदेश भाजपा की कोर कमेटी ने हिस्सा लिया। इस बैठक में सरकार व संगठन ने कोरोना अवधि में किए गए कार्यों के साथ ही आगामी कार्यक्रमों पर मंथन किया। विधानसभा चुनाव 2022 को ध्यान में रखते हुए इस बैठक में संघ की तरफ से अहम सुझाव दिए गए हैं। कोर कमेटी की तरफ से सीएम योगी आदित्यनाथ, उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, डॉ. दिनेश शर्मा, भाजपा के प्रदेश प्रभारी राधा मोहन सिंह, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह तथा अन्य के इस बैठक में शामिल हुए। संघ के सर कार्यवाह दत्तात्रेय होसबोले बैठक में मौजूद रहे। साथ ही भाजपा कोआर्डिनेटर बनाए गए अरुण कुमार नेबैठक में पहली बार हिस्सा लिया। यह बैठक कानपुर रोड सीएमएस स्कूल में हुई।

अयोध्या में 23 जुलाई को बसपा का पहला ब्राह्मण सम्मेलन

फीडबैक जुटाया गश :- आगामी विधानसभा चुनाव और कोरोना की संभावित तीसरी लहर को लेकर संघ भी तैयारियों में जुट गया है। शनिवार को पश्चिम व पूर्वी क्षेत्र प्रचारकों के साथ हुई बैठक के पहले दिन सरकार और संगठन के कामकाज के बारे में फीडबैक जुटाया गया है जबकि रविवार को सरकार और भाजपा संगठन के साथ समन्वय बैठक हुई। बताया जा रहा है कि विधान सभा चुनाव की तैयारियों को लेकर कोई महत्वपूर्ण फैसले लिए गए हैं।

तीसरी लहर के संघ करेगा मदद :- बताया जा रहा है कि आज की बैठक में संघ ने कोरोना की संभावित तीसरी लहर से लोगों का जीवन बचाने के लिए हर गांव में संघ पांच स्वयंसेवक तैनात करेगा। स्वयंसेवक इलाज व दवा आदि की व्यवस्था का संचालन करेंगे और लॉकडाउन की स्थिति बनने पर गरीब लोगों के खान-पान की भी व्यवस्था करने में मदद करेंगे।

वृंदावन में सेवाभारती बैठक :- वृंदावन में सेवा भारती की दो दिनी अखिल भारतीय बैठक के बाद आयोजित राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के तीन प्रांत ब्रज, परिश्चम और उत्तराखंड के प्रमुखों की बैठक में उत्तर प्रदेश के आगामी चुनावों का मुद्दा छाया रहा। प्रदेश में विधायक और मंत्रियों के रिपोर्ट कार्ड परखे गए। यह भी तय हुआ कि किसको टिकट मिलेगा और किसका कटेगा। टिकट बंटवारे के लिए जनता के साथ कार्यकर्ताओं की नजर से साढ़े चार साल के दौरान फेल और पास होने के मुद्दे पर भी चर्चा की गई।

Mahendra Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned