यूपी 69000 सहायक शिक्षक भर्ती प्रक्रिया : 3 जून से काउंसिलिंग, इस चूक से बचें नहीं तो गंवा देंगे टीचर बनने का मौका

67867 उम्मीदवारों को हुआ जिला आवंटन
चयनित उम्मीदवारों की काउंसलिंग 6 जून तक चलेगी
जिलों के बेसिक शिक्षा विभाग कार्यालय में होगी काउंसलिंग

By: Mahendra Pratap

Published: 02 Jun 2020, 08:53 PM IST

लखनऊ. उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा परिषद ने 69 हजार शिक्षक भर्ती के सभी 75 जिलों के 67,876 अभ्यर्थियों की जिलावार आवंटन सूची को वेबसाइट पर डाल दिया है। तीन जून से छह जून तक जिलों में अभ्यर्थियों की काउंसिलिंग की जाएगी। काउंसिलिंग में आवेदन पत्र में प्रस्तुत प्रमाण पत्रों अगर नहीं पेश किया तो शिक्षक बनने से चूक सकते है। और करीब 32 हजार रुपए महीने की सैलरी को गंवा देंगे।

उत्तर प्रदेश में बेसिक शिक्षा परिषद ने 1133 एसटी अभ्यर्थी नहीं मिलने के चलते उनकी सीटें खाली रखी गई हैं। बेसिक शिक्षा परिषद के सचिव विजय शंकर मिश्रा ने कहाकि यूपी में 69 हजार सहायक अध्यापकों की भर्ती की जानी है।

वेबसाइट पर पूरी लिस्ट :- उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा परिषद की आधिकारिक वेबसाइट upbasiceduboard.gov.in पर 69 हजार शिक्षक भर्ती की पूरी लिस्ट डाल दी गई है। परिषद की ओर से जारी सूची में किस अभ्यर्थी को कौन सा जिला आवंटित किया गया है उसका पूरा पूरा विवरण दर्ज है। 75 जिले की मेरिट कुल 2715 पेज में जारी की गई है।

बुधवार से काउंसलिंग :- काउंसलिंग तीन से छह जून के बीच होगी। अभ्यर्थी को काउंसिलिंग में आवेदन पत्र संग लगाए गए प्रमाण पत्रों को पेश करना होगा। काउंसिलिंग में सही प्रमाण पत्र न पेश करने की दशा में आवेदन रद हो सकता है।

यह बेहद जरूरी है नहीं तो हो जाएगा रद :-

1.सभी शैक्षिक अभिलेखों की दो सेट स्व प्रमाणित छाया प्रति
2.चार पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
3.सचिव उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा परिषद प्रयागराज के पदनाम से आवेदन शुल्क (सामान्य, 4.ओबीसी के लिए 500, एससी-एसटी के लिए 200 एवं विकलांग के लिए नि:शुल्क) का बैंकड्राफ्ट
5.काउंसलिंग में 100 रुपए के नोटरी शपथ पत्र पर ऑनलाइन आवेदन में भरी सभी सही सूचनाएं 6.जनपद में नियुक्ति के उपरांत अंतर्जनपदीय स्थानांतरण की मांग नहीं करने का वादा

Show More
Mahendra Pratap Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned