उपचुनाव 2020 की तैयारियां तेज, बसपा-कांग्रेस की सक्रियता से भाजपा बेचैन, सपा ने भी बदली रणनीति

उपचुनाव में भाजपा की छह और सपा की 2 सीटें

By: Mahendra Pratap

Published: 17 Sep 2020, 06:06 PM IST

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में आठ विधानसभा सीट पर उपचुनाव होने जा रहे हैं। सभी पार्टियां अपनी अपनी रणनीतियां बना रहीं हैं। भाजपा और सपा के लिए यह चुनाव नाक की लड़ाई बन गया है। पर कांग्रेस और बहुजन समाज पार्टी के लिए यह उपचुनाव सिर्फ फायदे का ही सौदा हैं। खोने को कांग्रेस और बसपा के लिए कुछ नहीं है। पर भाजपा और सपा की पेशानी पर बल पड़ गए हैं। इन उपचुनाव की आठ सीटों में से छह सीटें भाजपा के खाते की हैं और दो सीटें साइकिल की है। मतलब अगर हारे तो नुकसान तय है। यह उपचुनाव एक तरह से यूपी विधानसभा चुनाव 2022 का सेमीफाइनल है। इससे सत्ता पक्ष और विपक्ष को जनता के मन में क्या चल रहा है उसका एक हल्का सा अंदाजा हो जाएगा। वैसे 'बहनजी' उपचुनाव की इन आठ सीटों को लेकर काफी गंभीर हैं। आठ सीटों पर चुनाव लड़ेंगी। और बेहद गंभीरता से योजना बन रहीं हैं। जब से कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी को पूरे यूपी का प्रभार मिला है, यूपी कांग्रेस के नेता और कार्यकर्ताओं में जोश भर गया है। प्रियंका गांधी और उनकी टीम इन उपचुनाव को लेकर इतनी गंभीर है कि हर सीट के लिए जहां अलग-अलग रणनीति बना रही है वहीं इन आठ सीटों के लिए अगल-अलग सेनापतियों को भी नियुक्त किया जा रहा है। जो कांग्रेस के जीत का परचम लहरा सकें।

आठ सीटें :- उत्तर प्रदेश के आठ विधानसभा क्षेत्रों में टूंडला (फिरोजाबाद) बांगरमऊ (उन्नाव) बुलंदशहर सदर (बुलंदशहर) देवरिया सदर (देवरिया) घाटमपुर (कानपुर) नौगवां सादात (अमरोहा), स्वार (रामपुर) मल्हनी (जौनपुर) में उपचुनाव होंगे। यूपी की जिन आठ सीटों पर उपचुनाव होने हैं, उसमें से छह भाजपा और दो समाजवादी पार्टी के कब्जे वाली हैं।

'हाथी' आजमाएंगी अपनी सियासी ताकत :- बहुजन समाज पार्टी अभी तक ट्रेंड था कि वह उपचुनाव नहीं लड़ती थी, पर अभी हुए अक्टूबर 2019 में हुए उपचुनाव में बसपा ने हिस्सा लेना शुरू किया। 11 विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव में भाजपा को एक सीट का नुकसान हुआ पर समाजवादी पार्टी को दो सीटों का इजाफा हुआ। उपचुनाव में कांग्रेस और बसपा का खाता भी नहीं खुल सका। सपा ने बसपा से जलालपुर सीट छीन ली थी। पर इस बार बसपा सुप्रीमो इन उपचुनाव 2020 को लेकर बेहद गंभीर हैं। बसपा के पास खोने को कुछ नहीं है। ऐसे में उपचुनाव में हिस्सा लेकर 'हाथी' अपनी सियासी ताकत को आजमा सकता है।

हर सीट पर लड़ेगी चुनाव :- यूपी में कांग्रेस के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहाकि, तैयारियों के लिए हमने कमेटियों का गठन किया है, यह कमेटियां हर सीट पर संभावित उम्मीदवार का चुनाव करेंगी। उपचुनाव में जीत के जरिए हशिए पर गई कांग्रेस पार्टी अपनी वापसी करना चाहती है। साथ ही कांग्रेस कार्यकर्ताओं के मनोबल को बढ़ाना चाहती है।

कांग्रेस कमेटियों का गठन :-

घाटमपुर (रिजर्व) सीट : प्रदीप जैन आदित्य, आरके चौधरी, योगेश दीक्षित
मल्हानी सीट : अजय राय, राम जियावन, मकसूद खान
देवरिया सदर सीट : नदीम जावेद, बालकृष्ण चौहान, विश्वविजय सिंह
बांगरमऊ सीट : सुहेल अख्तर अंसारी, संजीव दरियाबादी, विवेकानंद पाठक
टूंडला सीट : नसीमुद्दीन सिद्दीकी, दीपक कुमार, बदरुद्दीन कुरैशी
नौगवां सदत सीट : प्रवीण सिंह एरॉन, नरेश सैनी, अली यूसुफ अली
बुलंदशहर सीट : हरेंद्र मलिक, मसूद अख्तर, विदित चौधरी
स्वार रामपुर सीट : राशिद अल्वी, नरेंद्र पाल गंगवार, ब्रह्मस्वरूप सागर

BJP
Show More
Mahendra Pratap Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned