उत्तर प्रदेश विधान सभा उपचुनाव: 9 अक्तूबर से नामांकन शुरू, अगर गाइडलाइन का पालन नहीं किया तो उठाना पड़ेगा भारी नुकसान

उत्तर प्रदेश विधान सभा उपचुनाव के नामांकन की प्रक्रिया शुक्रवार 9 अक्तूबर से शुरू होने जा रही है। नामांकन प्रक्रिया की अंतिम तारीख 16 अक्तूबर हैं।

By: Mahendra Pratap

Published: 08 Oct 2020, 03:30 PM IST

लखनऊ. उत्तर प्रदेश विधान सभा उपचुनाव के नामांकन की प्रक्रिया शुक्रवार 9 अक्तूबर से शुरू होने जा रही है। नामांकन प्रक्रिया की अंतिम तारीख 16 अक्तूबर हैं। सात विधानसभा उपचुनाव के लिए होने वाले नामांकन के लिए चुनाव आयोग ने कोरोना संक्रमण को देखते हुए गाइडलाइन जारी की है। जिसका पालन नहीं करने पर प्रत्याशियों पर कार्रवाई हो सकती है।

यूपी विधानसभा उपचुनाव की सात रिक्त सीटों में 3 नवम्बर को मत डाले जाएंगे। इनमें अमरोहा जिले की नौगवां सादात, बुलंदशहर, फिरोजाबाद जिले की टूण्डला सुरक्षित, उन्नाव जिले की बांगरमऊ, कानपुर नगर की घाटमपुर सु., देवरिया और जौनपुर जिले की मल्हनी शामिल हैं।

आयोगी की गाइडलाइन :- यूपी विधानसभा उपचुनाव सीटों पर नामांकन के लिए केन्द्रीय चुनाव आयोग की जारी की गई गाइडलाइन के अनुसार दाखिल किए जाएंगे। इस गाइडलाइन के अनुसार प्रत्याशी के नामांकन दाखिले में पीठासीन अधिकारी के कक्ष में सिर्फ दो लोगों का प्रवेश मान्य होगा। जिला निर्वाचन अधिकारी कार्यालय के परिसर में एक प्रत्याशी के सिर्फ दो वाहन ले जाने की अनुमति होगी।

वेबसाइट पर उपलब्ध कराए नामांकन प्रपत्र :- इस गाइडलाइन में नामांकन प्रपत्र मुख्य निर्वाचन अधिकारी या जिला निर्वाचन अधिकारी कार्यालय की वेबसाइट पर उपलब्ध करवाए गए हैं। नामांकन प्रपत्र आनलाइन दाखिले के बाद उसका प्रिंट यानि फार्म-1 का प्रारूप पीठासीन अधिकारी के समक्ष दाखिल किया जाएगा। नामांकन के साथ ही शपथपत्र का प्रारूप भी मुख्य निर्वाचन अधिकारी और जिला निर्वाचन अधिकारी कार्यालय की वेबसाइट पर उपलब्ध है, जिसे आनलाइन दाखिल किया जा सकेगा।

Show More
Mahendra Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned