उत्तर प्रदेश आबकारी विभाग का नया फैसला, शराब की लिमिट तय हुई, अब एक व्यक्ति को मिलेगी सिर्फ इतनी ही शराब

लॉकडाउन 3.0 के पहले दिन पूरे उत्तर प्रदेश में सोमवार से हाट्स्पाट को छोड़ कर सारे ज़ोन में शराब की दुकानें खुलीं। शराब के शौकीनों ने पूरे उत्तर प्रदेश में करीब 300 करोड़ रुपए की शराब खरीदी। लखनऊ में ही अकेले 5.5 करोड़ रुपए की शराब बिकी। शराब पीने वालों ने एक नहीं कई-कई बोतले खरीदी। जिससे कई दुकानों पर स्टॉक खत्म हो गया। पर अब आगे ऐसा नहीं होगा। उत्तर प्रदेश के आबकारी विभाग ने फैसला लिया है कि अब एक व्यक्ति को सिर्फ 750ml ही शराब मिलेगी।

By: Mahendra Pratap

Published: 05 May 2020, 09:27 PM IST

लखनऊ. लॉकडाउन 3.0 के पहले दिन पूरे उत्तर प्रदेश में सोमवार से हाट्स्पाट को छोड़ कर सारे ज़ोन में शराब की दुकानें खुलीं। शराब के शौकीनों ने पूरे उत्तर प्रदेश में करीब 300 करोड़ रुपए की शराब खरीदी। लखनऊ में ही अकेले 5.5 करोड़ रुपए की शराब बिकी। शराब पीने वालों ने एक नहीं कई—कई बोतले खरीदी। जिससे कई दुकानों पर स्टॉक खत्म हो गया। पर अब आगे ऐसा नहीं होगा। उत्तर प्रदेश के आबकारी विभाग ने फैसला लिया है कि अब एक व्यक्ति को सिर्फ 750ml ही शराब मिलेगी।

40 दिन के लॉकडाउन के बाद सोमवार को 4 मई को जब शराब की दुकानें खुली तो लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा। एक दिन में ही उत्तर प्रदेश में करीब 300 करोड़ रुपए की शराब की बिक्री हुई। आज तक का रिकार्ड रहा है कि प्रदेश में सबसे अधिक 125 करोड़ रुपए की शराब बिकी है। सूबे में ऐसे करीब 12 जिले ऐसे रहे जहां पांच करोड़ रुपए से अधिक की शराब बिकी। इस बिक्री से एक अच्छी बात जरूर हुई खस्ता हालात में पहुंच रहीं यूपी सरकार को भारी राजस्व प्राप्त हो गया है।

कर्नाटक की रिकार्डतोड़ कमाई :- उत्तर प्रदेश के अतिरिक्त कुछ और राज्य ऐसे रहे जहां पर शराब की दुकानों ने रिकार्डतोड़ कमाई की है। कर्नाटक राज्य के राजस्व विभाग ने एक दिन में 45 करोड़ रुपए की कमाई की। राज्य में 1,500 से अधिक शराब की दुकानें खोली गई हैं। इसमें तकरीबन 3.9 लाख लीटर बीयर और 8 लाख लीटर आईएमएफएल की बिक्री हुई। अभी तक राज्य में तकरीबन प्रत्येक दिन 65 करोड़ रुपए की शराब की बिक्री होती थी, लेकिन 4 मई को सारे कमाई के रिकॉर्ड ध्वस्त हो गए।

दिल्ली सरकार ने 70 फीसदी लगाया कोरोना टैक्स :- शराब की कमाई को देखते हुए दिल्ली सरकार ने 5 मई से शराब की कीमतों में 70 फीसदी का टैक्स लगा दिया गया है। यानी 1000 रुपए की शराब की बोतल 1700 रुपए में बिक रही है। सरकार ने 70 फीसदी स्पेशल कोरोना फीस लगाई है। इस टैक्स से सरकार की कमाई बढ़ने का अनुमान जताया जा रहा है। ताकि लॉकडाउन के चलते आर्थिक नुकसान की भरपाई हो सके।

आंध्र प्रदेश सरकार ने 50 फीसदी दाम बढ़ाए :- दिल्ली सरकार की देखा देखी आंध्र प्रदेश सरकार ने भी शराब की कीमतों में 50 फीसदी की बढ़ोतरी कर दी है। इसके पहले 25 फीसदी दाम बढ़ाए थे। कुल मिलाकर 75 फीसदी दाम बढ़ गए हैं।

प्रमुख सचिव आबकारी विभाग नए निर्देश :- उत्तर प्रदेश के प्रमुख सचिव आबकारी विभाग संजय भूसरेड्डी ने कहा कि प्रदेश में शराब की बिक्री शुरू हो गई है। तीन-चार दिन सीमित मात्रा में ही लोग शराब खरीद सकेंगे। एक बार में एक व्यक्ति सिर्फ एक बोतल, दो अद्धा (हाफ), तीन पव्वा, दो बीयर की बोतल और तीन बीयर की केन खरीद सकता है। दुकानों के बाहर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाने के लिए ग्राहकों के लिए घेरे बनाए गए हैं और किसी भी तरह हंगामे से बचने के लिए पुलिस फोर्स की तैनाती की गई है।

Show More
Mahendra Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned