किसानों की समस्या पर चर्चा नहीं जनता को शायरी सुना रहे योगीजी : ओम प्रकाश राजभर

सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर ने योगी सरकार पर तंज कसते हुए कहाकि, योगीजी को सदन में किसानों की समस्या पर चर्चा करने की बजाय प्रदेश की जनता को शायरी सुनाने में लगे रहे।

By: Mahendra Pratap

Published: 23 Aug 2020, 05:40 PM IST

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में किसान की हालात बेहद खराब है। खाद नहीं मिल रही है। और किसी वजह से उपलब्ध हो जा रही है तो उसके लिए किसानों को भारी रकम चुकानी पड़ी रही है। यूपी के किसानों की इस समस्या को देखते हुए सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर ने योगी सरकार पर तंज कसते हुए कहाकि, योगीजी को सदन में किसानों की समस्या पर चर्चा करने की बजाय प्रदेश की जनता को शायरी सुनाने में लगे रहे।

खाद न मिलने की समस्या को सीएम योगी तक पहुंचाने के लिए सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर ने रविवार को एक ट्विट लिखते हुए कहाकि, उप्र के किसान खाद की किल्लत से काफ़ी परेशान है, प्रदेश में खाद की कालाबाजारी चरम पर है, किसानों के फसल खेत मे खड़ी है। किसानों को खाद की तत्काल जरूरत है, लेकिन योगी जी को सदन में किसानों की समस्या पर चर्चा करने की बजाय प्रदेश की जनता को शायरी सुनाने में लगे रहे।

ओम प्रकाश राजभर ने अपने अगले ट्विट में लिखा कि, सरकार किसानों को खाद उपलब्ध कराने
के बजाय उनको लाइन के खड़ा कर उनको आत्महत्या करने को मजबूर कर रही है। सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी मांग करती है सरकार किसानों की समस्या को गंभीरता से लेते हुए तत्काल खाद उपलब्ध कराए।

ओम प्रकाश राजभर ने कहाकि, उप्र में पिछड़े,दलित,अल्पसंख्यक,एवं समाज के उपेक्षित वर्गों को समानता के अधिकार की बात करना, उप्र के मुख्यमंत्री को अच्छा नही लगता है, इसीलिए विधानसभा के पटल पर संसद की गरिमा को तार तार करते हुए राज्यसभा सांसद संजय सिंह के प्रति अपमानजनक शब्द का प्रयोग किये है। घोर निंदनीय!

सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी अध्यक्ष ने कहाकि, उप्र के नौजवानों के भविष्य को बर्बाद करने, किसानों के भविष्य बर्बाद करने, महिलाओं के भविष्य को बर्बाद करने, पिछड़े, दलित, अल्पसंख्यक, गरीब, मजदूर,व्यापारी, समाज के हर वर्ग को नफ़रत की आग में झोंकने वाली भारतीय झूठ पार्टी की सरकार के वजह से उप्र. की 24 करोड़ जनता त्राहि त्राहि कर रही है।

BJP
Show More
Mahendra Pratap Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned