यूपी के पुलिस अफसरों को संजय सिंह की धमकी, फ़र्ज़ीवाड़े का जवाब देना होगा मुश्किल

प्रदेश में बाबा की “ठोंको नीति” भी लागू है लेकिन अपराधी बेख़ौफ़ हैं।

By: Mahendra Pratap

Published: 25 Aug 2020, 01:46 PM IST

लखनऊ. आम आदमी पार्टी और उत्तर प्रदेश की योगी सरकार के बीच लगता है कि कुछ ठन सी गई है। आप से राज्यसभा सांसद और यूपी के प्रभारी संजय सिंह पर यूपी सरकार की मान मर्दन करने के लिए कई एफआईआर दर्ज कराई गई है। अब लखनऊ में आप पार्टी कार्यालय की मकान मलिकन ने आप पर एफआईआर दर्ज कराई है। इस पर पुलिस अफसरों पर निशाना साधते हुए संजय सिंह ने कहाकि, तुम्हें “फ़र्ज़ीवाड़े” का जवाब देना मुश्किल हो जाएगा।

आप से राज्यसभा सांसद और यूपी के प्रभारी संजय सिंह ने मंगलवार को अपने ट्विट के जरिए यूपी सरकार और उनके अफसरों पर निशाना साधते हुए लिखा कि, “FIR पर FIR” योगी सरकार के इशारे पर मेरे ख़िलाफ़ फ़र्ज़ी FIR दर्ज करने वाले पुलिस अधिकारियों याद रखना बाबा के दबाव में जो गुनाह कर रहे हो मैं “संसद की विशेषाधिकार समिति” के सामने सबको पेश कराऊँगा तुम्हें “फ़र्ज़ीवाड़े” का जवाब देना मुश्किल होगा।

इस पहले अपने एक और ट्विट में संजय सिंह ने कहाकि, अपराधों से दहला उत्तरप्रदेश, गाजियाबाद से बलिया तक हत्या ही हत्या, कानपुर में फाइनेंस कंपनी के मालिक की हत्या। आजमगढ़ क्षेत्र पंचायत सदस्य की हत्या। बलिया - पत्रकार की हत्या। गाज़ियाबाद- युवक की हत्या। यही है “योगीराज” का सच।

संजय ने अपने अगले ट्विट में लिखा कि, बलिया में पत्रकार रतन सिंह जी की सरेआम गोली मारकर हत्त्या कर दी गई। योगीजी विधान सभा में अपराध रोकने के झूठे दावे ठोक रहे हैं। प्रदेश में बाबा की “ठोंको नीति” भी लागू है लेकिन अपराधी बेख़ौफ़ हैं।

Show More
Mahendra Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned