यूपी में अब तक साढ़े बीस लाख मीट्रिक टन गेहूं की खरीद हुई

wheat procurement in up : कोरोना काल में भी उत्तर प्रदेश में अब तक करीब 3,99,935 किसानों से 20.50 लाख मीट्रिक टन गेहूं न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर खरीदा

By: Mahendra Pratap

Updated: 11 May 2021, 07:06 PM IST

लखनऊ. wheat procurement in up कोरोना काल में भी उत्तर प्रदेश में अब तक करीब 3,99,935 किसानों से 20.50 लाख मीट्रिक टन गेहूं न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर खरीदा जा चुका है। प्रदेश में गेहूंं खरीद करने का जिम्मा 11 एजेंसियों को सौंपा गया था। इनमें चार एजेंसियों ने कोई क्रय केंद्र संचालित नहीं किया है। सर्वाधिक 3252 केंद्र उत्तर प्रदेश सहकारी संघ (पीसीएफ) ने संचालित किए हैं। और करीब नौ लाख मीट्रिक टन गेहूं खरीदा है। राज्य में कुल 5612 क्रय केंद्र स्थापित किए गए है। राज्य कृषि उत्पादन मंडी परिषद ने पहली बार 48 जिलों में 110 गेहूं खरीद केंद्र स्थापित किए हैं। इन केंद्रों पर न्यूनतम समर्थन मूल्य 1975 रुपए प्रति कुंतल दर से 46982 मीट्रिक टन गेहूं खरीद हो चुकी है। 8523 किसानों को 92.78 करोड़ रुपए का गेहूं मूल्य भुगतान किया जा चुका है।

Pradhan Mantri Garib Kalyan Yojana : यूपी में 21 मई से मिलेगा फ्री राशन, करीब 11 लाख परिवारों को होगा फायदा

क्रय केंद्र नहीं बनाने वाली संस्था के नाम :- उत्तर प्रदेश खाद्य एवं रसद विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिन एजेंसियों ने क्रय केंद्र स्थापित नहीं किए हैं, उनमें उत्तर प्रदेश राज्य कृषि एवं औद्योगिक निगम (यूपीएग्रो), उत्तर प्रदेश कर्मचारी कल्याण निगम, भारतीय राष्ट्रीय उपभोक्ता सहकारी संघ मर्यादित, नेशनल एग्रीकल्चर कोआपरेटिव मार्केटिंग फेडरेशन आफ इंडिया लिमिडेट शामिल है।

वाराणसी के उपनिदेशक को प्रतिकूल प्रविष्टि : - खरीद कार्य में शिथिलता बरतने के आरोप में उपनिदेशक वाराणसी को प्रतिकूल प्रविष्टि प्रदान की गई है। अपर निदेशक प्रशासन दिलीप कुमार त्रिगुणायत ने बताया कि मंडी परिषद मुख्यालय पर क्रय सेल गठित की गई है। मंडी परिषद द्वारा स्थापित सभी केंद्रों की समीक्षा वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए नियमित की जा रही है।

Mahendra Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned