उत्तर प्रदेश में 23 अप्रैल से ड्राइविंग लाइसेंस बनना बंद, जानें इसकी वजह

Uttar Pradesh driving license Stop - परिवहन आयुक्त धीरज साहू ने सभी संभागीय परिवहन अधिकारी और सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी को भेजा आदेश
- 15 मई के बाद नए सिरे से जारी होगा नया टाइम स्लॉट

By: Mahendra Pratap

Updated: 22 Apr 2021, 05:57 PM IST

लखनऊ. Uttar Pradesh driving license Stop : यूपी (Uttar Pradesh) में एक मई तक ड्राइविंग लाइसेंस (driving license Stop) बनना बंद। 15 मई 2021 के बाद नए सिरे से टाइम स्लॉट जारी होगा। परिवहन आयुक्त धीरज साहू ने 22 अप्रैल को प्रदेशभर के संभागीय परिवहन अधिकारी और सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी को पत्र भेजकर आदेश दिया है।

आंधी और बारिश से गेहूं की फसल को भारी नुकसान, किसान परेशान

परिवहन विभाग ने कोरोना संक्रमण की वजह से एक बड़ा कदम उठाया है। परिवहन विभाग उत्तर प्रदेश भर में एक मई तक ड्राइविंग लाइसेंस बनाने पर प्रतिबंध लगा दिया है। ड्राइविंग लाइसेंस के संबंध में कोई भी काम नहीं होगा। (know reason)

15 मई के बाद नया टाइम स्लॉट :- परिवहन आयुक्त धीरज साहू ने 22 अप्रैल को जारी अपने आदेश में कहाकि, जिन आवेदकों ने लर्निंग, परमानेंट ड्राइविंग लाइसेंस, और ड्राइविंग लाइसेंस संबंधी किसी भी कार्य के लिए 23 अप्रैल से एक मई तक टाइम स्लॉट लिया है, अब उन्हें 15 मई के बाद नए सिरे से टाइम स्लॉट दिया जाए।

जिससे नई तारीख मिल सके :- परिवहन आयुक्त धीरज साहू ने ऐसे आवेदकों से कहा कि, वह 15 मई के बाद नए सिरे से ड्राइविंग लाइसेंस के आवेदन को रीशेड्यूल करें, जिससे नई तारीख मिल सके।

बंदी के पीछे की वजह यह है :- परिवहन आयुक्त ने इस बंदी के पीछे वजह बताते हुए कहाकि, ड्राइविंग लाइसेंस आवेदकों की भीड़ से संभागी परिवहन कार्यालय में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं हो पा रहा था। जिस वजह से हमेशा कोरोना संक्रमण का अंदेशा बना रहता था।

Mahendra Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned