यूपी बजट 2020 युवाओं और उनकी असीम संभावनाओं पर केंद्रित : मुख्यमंत्री योगी

लखनऊ. यूपी बजट 2020 के पेश होने के बाद उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को कहाकि यूपी बजट 2020 में हर किसी का ख्याल रखा गया। हमने युवाओं को लेकर यह बजट बनाया है, और उन्हें समर्पित किया है। इस बजट में उत्तर प्रदेश को शिक्षा का केंद्र बनाने की कोशिश की गई है।

By: Mahendra Pratap

Published: 18 Feb 2020, 01:56 PM IST

लखनऊ. यूपी बजट 2020 के पेश होने के बाद उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को कहाकि यूपी बजट 2020 में हर किसी का ख्याल रखा गया। हमने युवाओं को लेकर यह बजट बनाया है, और उन्हें समर्पित किया है। इस बजट में उत्तर प्रदेश को शिक्षा का केंद्र बनाने की कोशिश की गई है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में सबसे पहले वित्त मंत्री सुरेश खन्ना को बधाई दी और फिर कहाकि अच्छा बजट पेश किया है, बजट में हर किसी का ख्याल रखा गया। युवाओं को लेकर बनाया बजट, उन्हें ही समर्पित किया है। उत्तर प्रदेश को शिक्षा का केंद्र बनाने की कोशिश की गई है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश के अंदर महिला सशक्तिकरण के लिए हमारे प्रयास जारी है। मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के माध्यम से बालिकाओं को लाभ पहुंचाया जा रहा है। बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे का शुभारंभ इसी माह कर दिया जाएगा।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि अयोध्या में एक इंटरनेशनल एयरपोर्ट का निर्माण हो सके इसके लिए हमने बजट को आवंटित किया है। प्रदेश में वर्ष 2022 तक सभी को मकान मिले इसके लिए भी हमारे प्रयास जारी है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बताया कि बजट में किसानों और उनके परिवार के लिए एक बड़ी व्यवस्था की गई है। केवल मूल किसान ही नहीं बंटाई वाले किसान भी बीमा की योजना का लाभ ले सकते हैं। कभी दुर्घटना में अगर वह मृत हो जाता था तो उसके परिवार को कोई लाभ नहीं मिलता था, पर अब मिलेगा।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बताया कि सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि यह बजट वित्तीय अनुशासन का पालन करते हुए बनाया गया है। हम, अपना राजकोषीय घाटा रिजर्व बैंक द्वारा तय की गई सीमा अर्थात 3 प्रतिशत से नीचे 2.97 प्रतिशत पर रखने में सफल रहे हैं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बताया कि अपने पैरों पर खड़ा होने के इच्छुक हर शिक्षित बेरोजगार नौजवान के लिए हमने अप्रेंटिसशिप की योजना प्रारंभ की है। हर युवा किसी उद्यम से जुड़ेगा और अप्रेंटिसशिप पूरी होने की अवधि तक सरकार द्वारा उसे ₹2500 प्रतिमाह का सहयोग दिया जाएगा।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बताया कि हमने अपना प्रथम बजट किसानों को ध्यान में रखते हुए तैयार किया था तथा दूसरा बजट प्रदेश के औद्योगिक विकास और प्रदेश में ढांचागत बुनियादी सुविधाओं की दृष्टि से प्रस्तुत किया था। तीसरा बजट महिला सशक्तिकरण के कार्यक्रम की दृष्टि से तथा चौथा बजट प्रदेश की ऊर्जा के पर्याय युवाओं के लिए और उनकी असीम संभावनाओं को देश-दुनिया के सामने प्रस्तुत करने के लिए हमने प्रस्तुत किया है।

Mahendra Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned