उत्तर प्रदेश नशाखोरी में देश में नम्बर वन, शराब के शौकिनों की संख्या सुन मुसकुराए बिना नहीं रह सकेंगे

यूपी के नाबालिग बच्चे भी नशे करने में देश में नम्बर वन

By: Mahendra Pratap

Updated: 26 Jun 2020, 02:59 PM IST

लखनऊ. उत्तर प्रदेश एक बार फिर सुर्खियों में आ गया है। पूरे देश में सबसे अधिक नशा करने वाले लोग उत्तर प्रदेश में ही रहते हैं यही नहीं सूबे के नाबालिग बच्चे भी नशे के दीवाने हैं। बच्चों के नशे के इस दीवानेपन ने उत्तर प्रदेश को देश में इस वर्ग में भी अव्वल नंबर पर पहुंचा दिया है। उत्तर प्रदेश में शराब के शौकीनों की संख्या करीब 1.6 करोड़ है और 28 लाख लोग गांजे का शौक रखते हैं। अब अगर नशीले इंजेक्शन की बात करें तो इसमें भी यूपी के लोगों का जवाब नहीं है, करीब एक लाख लोग इंजेक्शन के जरिए नशे का शौक पूरा करते हैं। 10.7 लोग अफीम का नशा करते हैं। यह सभी जानकारियां एम्स स्थित नेशनल ड्रग डिपेंडेंस ट्रीटमेंट सेंटर के सर्वे में सामने आई है।

इस सर्वे रिपोर्ट ने उत्तर प्रदेश में नशे के दीवापन की संख्या की पोल खोल दी है। यह संख्या इससे भी अधिक हो सकती है। चौंकाने वाले इन तथ्यों को देखकर प्रदेश की हालात के बारे में पता चल सकता है। सर्वे में पता चला कि यूपी के 94 हजार नाबालिग बच्चे नशे की गिरफ्त में हैं। मध्य प्रदेश दूसरे नंबर पर है जहां इनकी संख्या 50000 है और 40000 बच्चों के आंकड़ों के साथ महाराष्ट्र से तीसर नंबर पर है।

अफीम का नशा करने में भी यूपी अव्वल :- सर्वे की रिपोर्ट पर गौर करेंगे तो पता चलेगा कि प्रदेश में 1.7 लाख लोग अफीम का नशा करते हैं। पंजाब-हरियाणा का नम्बर यूपी के बाद आता है। पंजाब में यह संख्या 7.2 लाख व हरियाणा में 5.9 लाख है। ताज्जुब की बात है कि करीब एक लाख लोग यूपी में नशीले इजेक्शन के जरिए अपनी नशे की हवस पूरी करते हैं।

पूरे देश में 16 करोड़ शराबी :- सर्वे के अनुसार पूरे देश में 16 करोड़ से अधिक लोगों को शराब की लत है। और यूपी में शराब के शौकीनों की संख्या 1.6 करोड़ है जबकि आंध्र प्रदेश में 48 लाख लोग शराब पी अपना गम हल्का करते हैं। अब अगर गांजे की बात करें तो 28 लाख लोग यूपी में इस नशे का शौक रखते हैं। बदनाम पंजाब में सिर्फ 5.8 लाख लोग इस नशे की गिरफ्त में हैं।

एक माह चलेगा जागरूकता अभियान :- नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के क्षेत्रीय निदेशक प्रशांत श्रीवास्तव ने बताया कि अंतरराष्ट्रीय नशा विरोधी दिवस पर एनसीबी एक माह तक ई कैम्पेन चलाने जा रहा है। यह अभियान बच्चों के नशे को गिरफ्त में आने की थीम पर होगा। जागरूकता फैलाने के लिए 50 से अधिक शैक्षिक संस्थाओं को इससे जोड़ा जा रहा है।

Show More
Mahendra Pratap Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned