scriptMaharana Pratap Jayanti Know About Mewar King Life Story | महाराणा प्रताप के जीवन से जुड़ी ये पांच बातें, जिन्हे सुनकर आप में भी भर जाएगा जोश | Patrika News

महाराणा प्रताप के जीवन से जुड़ी ये पांच बातें, जिन्हे सुनकर आप में भी भर जाएगा जोश

Maharana Pratap Jayanti 2022: महाराणा प्रताप अकबर के खिलाफ लड़े और सैन्य लिहाज से कमजोर होने के बाद भी सिर नहीं झुकाया। महाराणा प्रताप से जुड़े कई रोचक किस्से हैं। इनकी कहानियां लोगों में आज भी प्रेरणा देती हैं।

लखनऊ

Updated: May 09, 2022 12:10:48 pm

महाराणा प्रताप जयंती सोमवार को प्रदेश में धूमधाम से मनाई गई। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ समेत तमाम बड़े नेताओं ने ट्वीट करते हुए महाराणा प्रताप को श्रद्धाजंलि दी। मुख्यमंत्री योगी ने ट्वीट करते हुए लिखा माँ भारती के अमर सपूत, अद्भुत सेनानायक, अद्वितीय योद्धा, भारतीय स्वाभिमान की ओजस्वी हुंकार, भारत के महानायक, वीर शिरोमणि महाराणा प्रताप जी को उनकी जयंती पर कोटि-कोटि नमन। आपका बलिदानी जीवन युग-युगांतर तक राष्ट्र उपासना के लिए हमें प्रेरित करता रहेगा। इसी तरह के संदेशों ने जयंती पर देशप्रेम की भावना को जगाया। महाराण प्रताप की जीवन के कुछ ऐसे किस्से रहे, जो हर युवा में जोश और देशप्रेम भर देंगे। इन्ही में माहाराणा प्रताप के जीवन से जुड़ी पांच बातों को जानते हैं, जो नई ऊर्जा और जोश से ओत-प्रोत कर देंगी।
Maharana Pratap Jayanti Know About Mewar King Life Story
Maharana Pratap Jayanti Know About Mewar King Life Story
कौन था जान बचाने वाला वफादार मुसलमान

वर्ष 1576 में महाराणा प्रताप और अकबर की सेना के बीच यह युद्ध हुआ। अकबर की सेना को मानसिंह लीड कर रहे थे। इतिहास के अनुसार मानसिंह के साथ 10 हजार घुड़सवार और हजारों पैदल सैनिक थे। लेकिन महाराणा प्रताप 3 हजार घुड़सवारों और मुट्ठी भर पैदल सैनिकों के साथ लड़ रहे थे। इस दौरान मानसिंह की सेना की तरफ से महाराणा पर वार किया जिसे, महाराणा के वफादार हकीम खान सूर ने अपने ऊपर ले लिया और उनकी जान बचा ली थी।
यह भी पढ़ें

यूक्रेन के गांवों और झाड़ियों में छुपकर पढ़ा रहे शिक्षक, क्या अधूरा रह जाएगा छात्रों का MBBS डॉक्टर बनने का सपना

क्या है घोड़ा चेतक की कहानी

चेतक महाराणा का सबसे प्रिय घोड़ा था। हल्दीघाटी में महाराणा बहुत घायल हो गये थे, उनके पास कोई सहायक नहीं था। ऐसे में महाराणा ने चेतक की लगाम थामी और निकल लिए। उनके पीछे दो मुगल सैनिक लगे हुए थे, पर चेतक की रफ़्तार के सामने दोनों ढीले पड़ गए। रास्ते में एक पहाड़ी नाला बहता था। चेतक भी घायल था पर छलांग मार नाला फांद गया और मुग़ल सैनिक मुंह ताकते रह गए। लेकिन अब चेतक थक चुका था। ऐसे में महाराणा की जान तो बचा दी पर खुद शहीद हो गया।
महाराणा प्रताप की थीं 11 बीवियां

महाराणा प्रताप की कुल 11 बीवियां थीं और महाराणा की मृत्यु के बाद सबसे बड़ी रानी महारानी अजाब्दे का बेटा अमर सिंह प्रथम राजा बना।

यह भी पढ़ें

क्या वाकई ताजमहल के 20 कमरों में बंद है भगवान शिव, हाईकोर्ट में कमरों की खुलवाने की याचिका दायर

प्रजा ही थी राणा की सेना
राणा प्रताप का जन्म कुम्भलगढ़ के किले में हुआ था। ये किला दुनिया की सबसे पुरानी पहाड़ियों की रेंज अरावली की एक पहाड़ी पर है। राणा का पालन-पोषण भीलों की कूका जाति ने किया था। भील राणा से बहुत प्यार करते थे। वे ही राणा के आंख-कान थे। जब अकबर की सेना ने कुम्भलगढ़ को घेर लिया तो भीलों ने जमकर लड़ाई की और तीन महीने तक अकबर की सेना को रोके रखा।
घास की रोटियां

जब महाराणा प्रताप अकबर से हारकर जंगल-जंगल भटक रहे थे एक दिन पांच बार भोजन पकाया गया और हर बार भोजन को छोड़कर भागना पड़ा। एक बार प्रताप की पत्नी और उनकी पुत्रवधू ने घास के बीजों को पीसकर कुछ रोटियां बनाईं। उनमें से आधी रोटियां बच्चों को दे दी गईं और बची हुई आधी रोटियां दूसरे दिन के लिए रख दी गईं। इसी समय प्रताप को अपनी लड़की की चीख सुनाई दी। एक जंगली बिल्ली लड़की के हाथ से उसकी रोटी छीनकर भाग गई और भूख से व्याकुल लड़की के आंसू टपक आये। यह देखकर राणा का दिल बैठ गया। अधीर होकर उन्होंने ऐसे राज्याधिकार को धिक्कारा, जिसकी वज़ह से जीवन में ऐसे करुण दृश्य देखने पड़े। इसके बाद अपनी कठिनाइयां दूर करने के लिए उन्होंने एक चिट्ठी के जरिये अकबर से मिलने की इच्छा जता दी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Maharashtra Cabinet Expansion: कल 15 मंत्री लेंगे शपथ, देवेंद्र फडणवीस को मिलेगा गृह विभाग? जानें शिंदे कैबिनेट के संभावित मंत्रियों के नामबिहारः कांग्रेस ने बुलाई विधायकों की बैठक, नीतीश कुमार के साथ जाने पर बन सकती है सहमति!Google ने दिल्ली हाई कोर्ट को दी जानकारी, हटाए केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी और उनकी बेटी के खिलाफ पोस्ट वेब लिंक'इनकी पुरानी आदत है पूरे सिस्टम पर हमला करने की', कपिल सिब्बल के बयान पर बोले कानून मंत्री किरेण रिजिजूअरविंद केजरीवाल ने कहा- देश की राजनीति में परिवारवाद और दोस्तवाद खत्म कर भारतवाद लाएंगेAmit Shah Visit To Odisha: अमित शाह बोले- ओडिशा में अच्छे दिन अनुभव कर रहे लोग, सीएम नवीन पटनायक की तारीफ भी कीAsia Cup 2022 के लिए टीम इंडिया का हुआ ऐलान, विराट कोहली-केएल राहुल की हुई वापसी'नीतीश BJP का साथ छोड़े तो हम गले लगाने को तैयार', बिहार में मचे सियासी घमासान पर बोले RJD नेता शिवानंद तिवारी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.