...अब लखनऊ में स्कूल के अंदर छात्र की संदिग्ध परिस्थिति में मौत!

Dhirendra Singh

Publish: Sep, 16 2017 03:44:13 (IST)

Lucknow, Uttar Pradesh, India
...अब लखनऊ में स्कूल के अंदर छात्र की संदिग्ध परिस्थिति में मौत!

लखनऊ स्थित महर्षि विद्या मंदिर स्कूल (Maharishi Vidya Mandir Lucknow) में छात्र की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत।

लखनऊ. देश में गंभीर चर्चा का विषय बन गए गुरुग्राम स्थित रेयान इंटरनेशनल स्कूल में सात वर्षीय बच्चे की हत्या का मामला शांत नहीं हुआ है, कि लखनऊ स्थित महर्षि विद्या मंदिर स्कूल में पढ़ने वाले छात्र की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत का मामला सामने आया है। माड़ियाव थाना क्षेत्र में स्थित इस स्कूल में बच्चे अचानक तबीयत खराब हो गई और अस्पताल में डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

मड़ियांव थाना क्षेत्र में आईआईएम रोड पर स्थित महर्षि विद्या मंदिर से शनिवार सुबह एक छात्र को आनन-फानन में अस्पताल पहुंचाया गया। इसके बाद उसे ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया गया। जहां उसे डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। पुलिस के मुताबिक छात्र की पहचान आदित्य सिंह के रुप में हुई है। जो कि महर्षि विद्या मंदिर में 11वीं कक्षा का छात्र था। वह यहीं पर हॉस्टल में रहकर पढ़ाई कर रहा था। आदित्य का परिवार बस्ती में रहता है। बताया जा रहा है कि शनिवार सुबह 6.45 बजे पीटी क्लास के लिए जा रहा था। इसी दौरान बेहोश होकर गिर पड़ा। इसके बाद स्कूल प्रशासन ने उसे अस्पताल पहुंचाया गया। लेकिन डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

बीमारी को बताया मौत का कारण
छात्र आदित्य के रिश्तेदार रंजीत सिंह लखनऊ में ही रहते है। आदित्य के अस्पताल में होने की सूचना पर वह फौरन मौके पर पहुंचे। उन्होंने बताया कि आदित्य को न्युरोटिक डिसऑर्डर की बीमारी थी। वहीं पुलिस व परिवार को आदित्य की बॉडी पर किसी तरह के कोई निशान नहीं मिले हैं। परिवार से आदित्य का पोस्टमार्टम कराने से भी इंकार कर दिया और उसकी बॉडी लेकर बस्ती चले गए। वहीं स्कूल प्रशासन की किसी तरह की लापरवाही से इंकार करता रहा।

क्या कहते है जिम्मेदार
मडियांव थाना प्रभारी राघवन कुमार सिंह ने बताया अब तक की जांच पता चला है कि छात्र बीमारी से ग्रसित था और सुबह बेहोश होकर गिर पड़ा। इसके बाद अस्पताल में उसकी मौत हो गई। परिवार ने किसी तरह की लिखित कम्पलेंट नहीं दी, न ही किसी पर आरोप लगाया है। परिवार कोई शिकायत दर्ज कराता है तो मामले की गहना से जांच की जाएगी।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned