कोरोनाः मुम्बई-सूरत से आए लोग यूपी के इन 12 जिलों में पहुंचे, सीएम योगी ने जताई चिंता, किया यह ऐलान

सीएम योगी के रविवार को जहां जनता कर्फ्यू को सुबह छह बजे तक बढ़ाने व 15 जिलों को लॉकडाउन करने का ऐलान किया है, तो वहीं कोरोना से सबसे प्रभावित शहरों - मुम्बई व सूरत - से यूपी में आए लोगों को लेकर चिंता भी जताई.

लखनऊ. सीएम योगी के रविवार को जहां जनता कर्फ्यू को सुबह छह बजे तक बढ़ाने व 15 जिलों को लॉकडाउन करने का ऐलान किया है, तो वहीं कोरोना से सबसे प्रभावित शहरों - मुम्बई व सूरत - से यूपी में आए लोगों को लेकर चिंता भी जताई। उन्होंने जनता को संबोधन करते हुए कहा कि जिन जनपदों में मुम्बई और सूरत आदि शहरों से बड़ी संख्या में नागरिक आए हैं, उनमें जौनपुर, मिर्जापुर, मऊ, कुशीनगर, झांसी, गाजीपुर, अयोध्या, बस्ती, बाराबंकी, देवरिया, बलिया और भदोही हैं। सीएम ने इन सभी नागरिकों से अपील की है कि वह ज़्यादा लोगों से न मिलें। साथ ही उन्होंने कहा कि नेपाल की सीमा से जुड़े 6 जनपद महराजगंज, सिद्धार्थनगर, बलरामपुर, श्रावस्ती, बहराइच व पीलीभीत में लोग सतर्कता बरतें। मेरी अपील है कि जो लोग नेपाल या बाहर से आए हैं, वे अपने घर पर ही रहें। संदेह होने पर तत्काल सूचना दें। प्रशासन भी तत्काल संज्ञान लेगा। किसी भी व्यक्ति को आपातकाल में आवश्यकता हो तो PRV 112 को संपर्क करें। डायल 108 और 102 के साथ ही हमारी एडवांस लाइफ सपोर्ट एम्बुलेंस भी हर जनपद में जनता की सुविधा के लिए सदैव तत्पर रहेंगी।

ये भी पढ़ें- सावधान! कोरोना के कारण 25 मार्च तक आजमगढ़ हुआ लॉक डाउन, नहीं कर सकेंगे यह काम, देखें लिस्ट

यह जिले लॉकडाउन-
इससे पहले सीएम योगी ने 15 जनपदों को 25 मार्च तक लॉकडाउन के आदेश दिए हैं। पहले चरण में लाॅकडाउन किए जाने वाले 15 जनपदों आगरा, लखनऊ, गौतमबुद्ध नगर, गाजियाबाद, मुरादाबाद, वाराणसी, लखीमपुर खीरी, बरेली, आजमगढ़, कानपुर, मेरठ, प्रयागराज, अलीगढ़, गोरखपुर और सहारनपुर शामिल हैं। 15 जनपद जहां कोरोना वायरस से कोई पीड़ित/प्रभावित है या आइसोलेट करने के लिए कहीं रखा गया है, उन्हें पूरी तरह लाॅकडाउन करने की कार्रवाई की जा रही है। सीएम ने आग्रह किया कि इन जनपदों में कोई व्यक्ति किसी भी सार्वजनिक स्थान पर न जाएं क्योंकि हम उस स्टेज पर खड़े हैं कि थोड़ी सी लापरवाही नुकसानदायक हो सकती है।

होगी पेट्रोलिंग-
उन्होंने कहा कि जनता की सहायता के लिए पूरे प्रदेश के अंदर उ.प्र. पुलिस की पीआरवी 112 के हमारे लगभग 3000 फोर-व्हीलर, 1500 टू-व्हीलर सुरक्षा के साथ-साथ आवश्यक सामग्री पहुंचाने में भी मदद करेंगे। इन 15 जनपदों पुलिस द्वारा पेट्रोलिंग होगी। स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए हमारी 108 की 2200 एम्ब्यूलेंसेज हैं, 102 की 2270 एम्ब्यूलेंसेज हैं। एडवांस लाइफ सपोर्ट एम्ब्यूलेंसेज 250 हैं। यह भी पूरे प्रदेश के अंदर जनता को इमरजेंसी स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए तैनात रहेंगी।

संदेह होने पर आईसोलेशन वार्ड तक पहुंचाया जाएगा-
सीएम योगी ने सभी जिला प्रशासन को निर्देश दिए सूची रखकर इन सभी को क्वैरेंटाइन करने का प्रयास करे और थोड़ा भी संदेह होने पर आइसोलेशन वाॅर्ड तक पहुंचाने की व्यवस्था करे। निःशुल्क उपचार की व्यवस्था प्रदेश सरकार करने जा रही है।

परिवन सेवा रहेगी बंद-

23 से 25 मार्च तक उ.प्र. परिवहन की सेवाएं पूरी तरह बंद रहेंगी। साथ ही हम उ.प्र. की इंटर स्टेट कनेक्टिविटी को पूरी तरह बंद करने जा रहे हैं। उ.प्र. से कोई भी बस सेवा नेपाल, बिहार, झारखंड, मध्यप्रदेश, राजस्थान, हरियाणा या दिल्ली के लिए नहीं जाएगी। सीएम योगी ने जनता से अपील की कि सभी लोग पूजा तथा धार्मिक कार्य अपने घरों में करें। मंदिर, मस्जिद, गुरुद्वारे या चर्च में एकत्रित न हों। पूजा, हवन, नमाज आदि एकांत में करें, सामूहिक रूप से न करें। इनके लिए भी हम सावधानी बरतें।

coronavirus
Abhishek Gupta Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned