scriptMata Janki Mandir Ayodhya Ram janm Bhumi per sar | अयोध्या के राममंदिर परिसर को लेकर बड़ा फैसला, अब बनेगा मां जानकी का भव्य मंदिर | Patrika News

अयोध्या के राममंदिर परिसर को लेकर बड़ा फैसला, अब बनेगा मां जानकी का भव्य मंदिर

Ayodhya maa Janki Mandir राम मंदिर का 30% काम पूरा हो चुका है। राजस्थान के भरतपुर से पत्थर लाने की बाधाएं भी अब दूर हो गए हैं। पत्थरों की आपूर्ति आवश्यकता अनुसार हो रही है। बरसात के पहले रिटेनिंग वॉल का काम पूरा करने की तैयारी है। इसके बाद परकोटा निर्माण का काम शुरू होगा। बैठक में ट्रस्टियों सहित राम मंदिर के आर्किटेक्ट आशीष सोमपुरा, मंदिर निर्माण प्रभारी गोपाल जी सहित एलएनटी टाटा मोटर्स के इंजीनियर मौजूद रहे।

लखनऊ

Updated: April 20, 2022 10:15:46 am

Ayodhya maa Janki Mandir श्री राम जन्मभूमि मंदिर परिसर में ही माता जानकी का मंदिर भी स्थापित करने की तैयारी है। इसके साथ ही परिसर में ही महर्षि वाल्मीकि, गणपति, माता शबरी, निषादराज व जटायु के भी मंदिर बनाने की योजना है। श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की दो दिवसीय बैठक में इस पर सहमति बनी है। मंदिर निर्माण समिति के अध्यक्ष नृपेंद्र मिश्रा ने राम मंदिर निर्माण की प्रगति की समीक्षा भी की। इस मौके पर मंदिर निर्माण के टाइम प्लान और रिटेनिंग वॉल, परपोटा निर्माण पर भी मंथन किया गया।
ram.jpg
अगस्त में गर्भगृह लेगी आकार

राम मंदिर निर्माण समिति युवा ट्रस्ट की बैठक दूसरे दिन सर्किट हाउस में दो सत्रों में हुई। बैठक में मंदिर निर्माण के कार्यों की गति बढ़ाने पर विचार हुआ। टाइम प्लान के तहत कार्य आगे बढ़े इसको लेकर चर्चा हुई। अगस्त माह में राम मंदिर का गर्भ ग्रह आकार लेने लगेगा, इसकी पूरी संभावना है। इसके साथ ही भक्तों के लिए सुविधाएं विकसित करने व सुरक्षा को लेकर भी चर्चा हुई। बैठक के बाद श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने बताया कि बैठक में तय हुआ है कि राम जन्मभूमि परिसर में राम मंदिर के साथ-साथ माता जानकी का भी मंदिर स्थापित किया जाए। इसके अलावा महर्षि वाल्मीकि, भगवान गणेश, निषादराज, माता शबरी और जटायु का भी मंदिर बनाने की योजना है।
ये भी पढ़ें: बैंक समय बदलने के बाद RBI ने लिया बड़ा फैसला, सीधे ग्राहक होंगे प्रभावित

मंदिर का 30 प्रतिशत काम पूरा

राम मंदिर का 30% काम पूरा हो चुका है। राजस्थान के भरतपुर से पत्थर लाने की बाधाएं भी अब दूर हो गए हैं। पत्थरों की आपूर्ति आवश्यकता अनुसार हो रही है। बरसात के पहले रिटेनिंग वॉल का काम पूरा करने की तैयारी है। इसके बाद परकोटा निर्माण का काम शुरू होगा। बैठक में ट्रस्टियों सहित राम मंदिर के आर्किटेक्ट आशीष सोमपुरा, मंदिर निर्माण प्रभारी गोपाल जी सहित एलएनटी टाटा मोटर्स के इंजीनियर मौजूद रहे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Maharashtra Politics: फडणवीस को डिप्टी सीएम बनने वाला पहला CM कहने पर शरद पवार की पूर्व सांसद ने ली चुटकी, कहा- अजित पवार तो कभी...Udaipur Killing: आरोपियों के मोबाइल व सोशल मीडिया का डाटा एटीएस के लिए महत्वपूर्ण, कई संदिग्धों पर यूपी एटीएस का पहराJDU नेता उपेंद्र कुशवाहा ने क्यों कहा, 'बिहार में NDA इज नीतीश कुमार एंड नीतीश कुमार इज NDA'?कन्हैया की हत्या को माना षड्यंत्र, अब 120 बी भी लागूकानपुर में भी उदयपुर घटना जैसी धमकी, केंद्रीय मंत्री और साक्षी महाराज समेत इन साध्वी नेताओं पर निशानाAmravati Murder Case: उमेश कोल्हे की हत्या मामले पर नवनीत राणा ने गृह मंत्री अमित शाह को लिखी चिट्ठी, की ये बड़ी मांगmp nikay chunav 2022: दिग्विजय सिंह के गैरमौजूदगी की सियासी गलियारे में जबरदस्त चर्चाबहुचर्चित अवधेश राय हत्याकांड में बढ़ी माफिया मुख्तार की मुश्किलें, जाने क्या है वजह...
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.