समाजवादी सरकार में फिर दोहराया जायेगा मथुरा कांड, जलेगा शहर! लखनऊ में चल रही तैयारी

समाजवादी पार्टी की किरकिरी कराने वाला मथुरा कांड एक बार फिर होने वाल है

लखनऊ.समाजवादी पार्टी की किरकिरी कराने वाला मथुरा कांड एक बार फिर होने वाल है। इसकी तैयारियां लखनऊ में चल रही है। इस बार इसमें किसी राजनेता का हाथ नहीं होगा बल्कि अभिनेता इस घटना को अंजाम देंगे। बात चौंकाने वाली है मगर सच है। शहर के थिएटर आर्टिस्ट मिलकर मथुरा कांड को मंच पर दर्शाने वाले हैं। यह प्ले नौ अगस्त को मंच पर सबके सच पेश करेगा। इस नाटक के बहाने मथुरा में जान गंवाने वाले शहीदों को याद किया जायेगा और सिस्टम की पोल खुलेगी।

मथुरा कांड में रामवृक्ष यादव के साम्राज्य को ध्वस्त करने में जिस तरह से पुलिस को मुठभेड़ करनी पड़ी उसके पीछे मौजूदा सरकार के कई नेताओं के नाम सामने आये। रामवृक्ष यादव को सियासत की छांव मिल रही थी जिससे उसने मथुरा में अपनी हुकूमत जमा ली थी। रामवृक्ष यादव के पाप का घड़ा भर गया तो उसकी लंका में आग लगाने पहुंचे पुलिस कर्मियों को अपने जान गंवानी पड़ गई। एएसपी मुकुल द्विवेदी हो या फिर एसओ संतोष यादव दोनों ने रामवृक्ष रुपी कंस को मार गिराने के लिए अपनी जान न्यौछावर कर दिया।

mathura roits


यूपी सरकार के नाक के नीचे रामवृक्ष यादव अपने अवैध काम कर रहा था। सिस्टम की पोल खोलने के लिए सत्यपथ रंगमंडल ने हिंदी ड्रामा मथुरा को मंच पर लाने की कोशिश की है। प्ले के लेखक और निर्देशक मुकेश वर्मा ने बताया की नाटक में दिखाने की कोशिश की गई है की कोई बेवजह क्यों लड़ रहा है? एक बेवक़ूफ़ किसी को फॉलो करता है तो उसके पीछे सैकड़ों चल देते हैं। इससे किसी को कोई फ़ायदा नहीं मिलने वाल। इस नाटक के जरिये दोनों पुलिस कर्मियों के परिवार के हालात के साथ ही मथुरा कांड की सच्चाई सामने लाने की कोशिश की जाएगी।

आईडी प्रूफ होगा तभी देख सकेंगे नाटक
मुकेश वर्मा ने बताया की इस नाटक को देखने के लिए आईडी प्रूफ लाना होगा। नाटक के टिकट पांच अगस्त तक दर्शक ले सकते हैं। टिकट तभी मिलेगा जब आईडी प्रूफ दिया जायेगा। नाटक का मंचन नौ अगस्त को कैसरबाग के रायउमानाथ बली प्रेक्षागृह में होगा। इस प्ले में शशिकांत दुबे, सिद्धार्थ श्रीवास्तव, शक्ति मिश्र, मधु सैनी अभिनय करेंगे।

यह भी पढ़ें
शिवपाल ने राज बब्बर की उड़ाई खिल्ली कहा दगा कारतूस!पढ़िए चौंकाने वाले विवादित बयान

Commonwealth Game के विजेता को छुड़ाना है गिरवी, खेत चाहिए मदद

#‎चातुर्मास‬ सावधान! इन चार महीने नहीं बरती सावधानी तो होगी मुश्किलें!

Show More
Santoshi Das
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned