Political News : मायावती ने कहा - यूपी में बीएसपी सरकार में तैयार किए गए विकास के प्रख्यात मॉडल

- सरकारी स्कूलों की व्यवस्थाएं बिल्कुल भी ठीक नहीं - संजय सिंह
- किसान नेताओं को 50 लाख नोटिस देना शर्मनाक एवं निंदनीय - सपा

By: Neeraj Patel

Updated: 18 Dec 2020, 04:21 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
लखनऊ. बसपा सुप्रीमो मयावती ने ट्विट कर कहा कि यूपी में खासकर गंगा एक्सप्रेस-वे हो या विकास के अन्य प्रोजेक्ट अथवा जेवर में बनने वाला नया एयरपोर्ट, पूरे जग-जाहिर तौर पर ये सभी बीएसपी की मेरी सरकार में ही तैयार किए गए विकास के वे प्रख्यात मॉडल हैं जिसको लेकर पहले सपा व अब वर्तमान बीजेपी सरकार अपनी पीठ अपने आप थपथपाती रहती है। मेट्रो एवं अयोध्या, वाराणसी, मथुरा, कन्नौज सहित यूपी के प्रचीन व प्रमुख शहरों में बुनियादी जनसुविधाओं की नई स्कीमें व इनको रिकार्ड समय में पूरा करने का काम भी बीएसपी का ही विकास मॉडल है जो कानून द्वारा कानून के राज के साथ प्राथमिकता में रहा, जिससे सर्वसमाज को लाभ मिला।

सरकारी स्कूलों की व्यवस्थाएं बिल्कुल भी ठीक नहीं - संजय सिंह
आम आदमी पार्टी के उत्तर प्रदेश प्रभारी संजय सिंह ने सीएम योगी के मंत्री का पर्दाफाश करते हुए ट्विट कर कहा कि ये उत्तर प्रदेश में बाराबंकी जनपद के सरकारी स्कूलों की व्यवस्थाएं बिल्कुल भी ठीक नहीं हैं और न ही सरकारी स्कूलों में शौचालय व्यवस्था ठीक है। शौचालय बन तो हैं लेकिन उनकी हालत इतनी खराब है कि गेट तक उखड़ गए हैं। पाठशालाओं की व्यवस्था भी ठीक नहीं है। ऐसे ही सरकारी स्कूलों की तारीफ के लिए यूपी के भाजपा मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह लगे हुए है।

किसान नेताओं को 50 लाख नोटिस देना शर्मनाक एवं निंदनीय - सपा
लखनऊ. समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने ट्विट कर कहा कि उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार का नया कारनामा सामने आया है। यूपी के संभल जिले में आंदोलन करने पर किसान नेताओं को प्रशासन द्वारा 50 लाख रुपए का नोटिस दिया जाना शर्मनाक एवं निंदनीय है। यह नोटिस संविधान में दिए गए लोकतांत्रिक अधिकारों का हनन करने का बराबर है। इसलिए तत्काल प्रभाव से भाजपा सरकार किसान नेताओं को दिए गए किसी भी प्रकार के नोटिस को वापस ले।

BJP
Neeraj Patel
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned