मायावती ने बसपा नेताओं को किया तलब, चुनाव में मिली हार पर करेंगी मंथन

बसपा सुप्रीमो मायावती ने सोमवार 3 जून को बुलाई बैठक

- बैठक में हार के नतीजों पर करेंगी मंथन

- सभी प्रदेश प्रभारियों व बसपा नेताओं को किया गया तलब

लखनऊ. बसपा सुप्रीमो मायावती ने सोमवार 3 जून को दिल्ली में बैठक बुलाई है। लोकसभा चुनाव के बाद बड़े स्तर पर दिल्ली में यह बैठक आयोजित की जाएगी। इस बैठक में बीएसपी की ओर से सभी प्रदेश प्रभारियों को बुलाया गया है। इसमें नवनिर्वाचित सांसद, लोकसभा प्रत्याशी, जोन इंचार्जों के साथ जिलाध्यक्षों को भी बुलाया गया है। मायावती की यह बैठक कई मायने में अहम मानी जा रही है।

बैठक में मायावती गठबंधन के अपेक्षा परिणाम न मिलने और हार के नतीजों पर मंथन करेंगी। वे लोकसभा चुनाव में मिली सीटों और वोटिंग प्रतिशत की समीक्षा करेंगी। इसके अलावा बैठक में दिल्ली समेत कई राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों को लेकर भी मंथन किया जाएगा, ताकि विधानसभा के परिणाम लोकसभा चुनावों जैसे न हों और बीएसपी के खाते में ज्यादा से ज्यादा हों। बसपा को लोकसभा चुनाव में 10 सीटें मिली हैं। उसका कुल वोटिंग प्रतिशत 19.26 रहा है। मायावती ने सीटवार ब्यौरा भी मांगा है। सू मायावती इस दौरान पदाधिकारियों के साथ गठबंधन के भविष्य की संभावनाओं पर भी बातचीत कर सकती हैं।

दिल्ली के प्रदेश अध्यक्ष को किया बाहर

लोकसभा चुनाव परिणाम में गठबंधन की अपेक्षा बीएसपी की सीटें कम आईं। हालांकि पिछले चुनावों के मुकाबले यह संख्या बढ़ी है, लेकिन पार्टी इससे बहुत खुश नहीं है। कमजोर पर्फार्मेंस और चुनाव में खराब प्रदर्शन पर मायावती ने नाराज होकर यूपी में पार्टी के अध्यक्ष और आरएस कुशवाहा को उत्तराखंड के प्रभारी पद से हटा दिया। उनकी जगह एमएल तोमर को प्रभारी बनाया गया है। इसी तरह दिल्ली के प्रदेश अध्यक्ष सुरेंद्र सिंह को पद से हटाने और पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाने के बाद उनकी जगह लक्ष्मण सिंह को दी गई है।

ये भी पढ़ें: सुरेंद्र सिंह हत्याकांड का मुख्य अभियुक्त वसीम हुआ गिरफ्तार

Karishma Lalwani
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned