मुलायम कुनब के टीपू, सिल्लू, और धरमाई चुनावी मैदान में, वोट मांग रहे हैं तेजू, अंशुल, दीपू और अंकुर

इटावा के सैफई गांव में इन दिनों टीपू, धरमाई, सिल्लू, अंकुर और तेजू जैसे नामों की खूब चर्चा है।

By: Abhishek Gupta

Updated: 10 Apr 2019, 10:15 PM IST

दिनेश शाक्य.
इटावा. इटावा के सैफई गांव में इन दिनों टीपू, धरमाई, सिल्लू, अंकुर और तेजू जैसे नामों की खूब चर्चा है। हर गली-चौराहे और नुक्कड़ पर हर कोई यही बात करता दिखता है कि आखिर इनमें से इस बार कौन संसद तक पहुंचेगा। या फिर पार्टी इन्हें किन चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है। दरअसल, यह सभी नाम देश के सबसे बड़े राजनीतिक घराने मुलायम सिंह यादव के कुनबे के हैं। इनमें से कई नाम लोकसभा उम्मीदवार हैं तो कुछ पर अपनी पार्टी को जिताने का दारोमदार है।

ये भी पढ़ें- अमेठी में नामांकन दाखिल के बाद राहुल गांधी की सम्पत्ति को लेकर हुआ बहुत बड़ा खुलासा, इतने मामले हैं दर्ज, मचा हड़कंप

अखिलेश को प्यार से कहते हैं टीपू
समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव के बेटे व सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव का घरेलू नाम टीपू है। इस नाम के पीछे की कहानी बड़ी दिलचस्प है। सैफई गांव के प्रधान व मुलायम सिंह यादव के बचपन के दोस्त दर्शन सिंह यादव ने अखिलेश यादव के जन्म होते ही उनका नाम टीपू रख दिया था। तब से अखिलेश को उनके गांव के लोग प्यार से टीपू ही कहते हैं। उप्र के मुख्यमंत्री रह चुके अखिलेश इस बार आजमगढ़ से सपा उम्मीदवार हैं।

Akhilesh Yadavdharmendra yadav

धर्मेंद्र यादव का नाम है धरमाई-
मुलायम सिंह यादव के भतीजे और बदायूं से सपा के लोकसभा उम्मीदवार धर्मेंद्र यादव का घरेलू नाम धरमाई है। यह मुलायम के तीसरे नंबर के भाई अभयराम के बेटे हैं। उन्हें यह नाम तब मिला जब वे इलाहाबाद में पढ़ाई कर रहे थे। उनके साथी तब उन्हें इसी नाम से पुकारते थे। आज भी इलाहाबाद के उनके करीबी साथी उन्हें इसी नाम से जानते हैं। 2004 में उनके ब्लॉक प्रमुख बनने तक यह घर में भी उनका यही नाम प्रचलन में था। जब मैनपुरी से वहसांसद बने तब घर वालों ने उन्हें धरमाई कहना छोड़ दिया लेकिन गांव वाले तो अभी इसी नाम से पुकारते हैं।

Akshay yadav

अक्षय यादव हैं सिल्लू-
समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव प्रोफेसर रामगोपाल यादव के बेटे अक्षय यादव फिरोजाबाद से मौजूदा वक्त में सांसद हैं। इस बार वह फिर से यहां से उम्मीदवार हैं। इनके खिलाफ इनके चाचा शिवपाल ताल ठोंक रहे हैं। प्रोफेसर साहब अब भी इन्हें प्यार से सिल्लू ही पुकाराते हैं। रामगोपाल यादव के दिवंगत बेटे असित यादव घरेलू नाम 'बिल्लू' था।

तेज प्रताप यादव हैं तेजू-
मुलायम सिंह यादव के बड़े भाई रतन सिंह यादव के दिवंगत बेटे रणवीर सिंह यादव के इकलौते बेटे तेज प्रताप सिंह यादव मैनपुरी से सांसद हैं। यह लालू प्रसाद यादव के दामाद हैं। परिवार के लोग इन्हें 'तेजू' के ही नाम से पुकारते हैं। मैनपुरी इलाके के बड़े-बुजुर्ग नेता भी इन्हें तेजू कहका ही बुलाया करते हैं। इस बार तेजू की सीट से मुलायम लड़ रहे हैं। तेजू को सपा ने अभी किसी जगह से नहीं उतारा है।

अभिषेक हैं अंशुल
मुलायम सिंह यादव के छोटे भाई राजपाल सिंह यादव के जिला पंचायत अध्यक्ष बेटे अभिषेक यादव का घरेलू नाम 'अंशुल' है। समाजवादी पार्टी के परिवार में भी इन्हें अंशुल यादव के नाम से ही पुकारा जाता है। यहां तक कि समाजवादी पार्टी के पत्राचार में भी इन्हें अभिषेक यादव की जगह अंशुल यादव ही लिखा जाता है। समाजवादी पार्टी ने लोकसभा चुनावों में अपने स्टार प्रचारकों की जो सूची जारी की है उसमें अंशुल यादव ही नाम लिखा गया है।

अनुराग का नाम दीपू-
धर्मेंद्र यादव के बड़े भाई इंजीनियर अनुराग यादव को लोग घर में प्यार से दीपू कहते हैं। जब भी कभी अनुराग यादव सैफई पहुंचते हैं तब उन्हें गांव और घर परिवार के लोगों के अलावा उनके साथी दीपू भैया के नाम से ही उन्हें पुकारते हैं, हालांकि, समाजवादी पार्टी के परिवार में लोग उन्हें अनुराग यादव के नाम से ही जानते हैं।

आदित्य उर्फ अंकुर-
समाजवादी पार्टी से अलग होकर अपना नया दल बना चुके मुलायम सिंह यादव के छोटे भाई शिवपाल सिंह यादव के इकलौते बेटे आदित्य यादव का घरेलू नाम नाम अंकुर है। पार्टी, परिवार और साथियों के बीच यह अंकुर भैया के नाम से लोकप्रिय हैं। प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के महासचिव अंकुर इस चुनाव में अपने पिता के दाएं हाथ हैं और पार्टी के स्टार प्रचारक भी।

Abhishek Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned