एक नये मोड़ पर पहुंची मुलायम कुनबे की रार! इस बार चाचा-भतीजा नहीं बल्कि भाइयों में बढ़ीं दूरियां

एक नये मोड़ पर पहुंची मुलायम कुनबे की रार! इस बार चाचा-भतीजा नहीं बल्कि भाइयों में बढ़ीं दूरियां

Hariom Dwivedi | Publish: Dec, 08 2018 06:23:53 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

सैफई परिवार में चाचा-भतीजे के बाद अब भाइयों के बीच भी दूरियां बढ़ती नजर आ रही हैं...

लखनऊ. सैफई परिवार में चाचा-भतीजे के बाद अब भाइयों के बीच भी दूरियां बढ़ती नजर आ रही हैं। मुलायम के आशीर्वाद से नई पार्टी के गठन की बात करने वाले शिवपाल यादव ने 9 दिसंबर को लखनऊ में होने वाली जनाक्रोश रैली के लिए बड़े भाई (मुलायम सिंह यादव) को निमंत्रण नहीं भेजा है। ऐसा पहली बार है जब शिवपाल ने इतने बड़े कार्यक्रम के लिए मुलायम से दूरियां बना ली हैं। इतना ही नहीं उन्होंने बड़ा बयान देते हुए कहा कि अब कार्यक्रम में नेता जी का आना या आना कोई बड़ा मुद्दा नहीं हैं। 9 दिसंबर को राजधानी के रमाबाई अंबेडकर मैदान में शिवपाल यादव एक बड़ी रैली कर रहे हैं, जिसका नाम जनाक्रोश रैली दिया गया है।

शिवपाल सिंह यादव अब मुलायम सिंह यादव से नाराज हो गये हैं। वजह है मुलायम का ढुलमुल रवैया। जन्मदिन के प्रोग्राम को छोड़ दें तो मुलायम शिवपाल के बुलाने पर आये जरूर हैं। यह बात अलग है कि थोड़ी ही देर बाद या फिर अगले दिन वह अखिलेश के मंच पर समाजवादियों में जोश भरते दिखे। मुलायम के जन्मदिन पर शिवपाल यादव ने सैफई में नेता जी के जन्मदिन को लेकर खास तैयारियां की थीं। उन्हें निमन्त्रण भी भेजा था, लेकिन शिवपाल इंतजार ही करते और मुलायम सिंह यादव झट से समाजवादी पार्टी के दफ्तर पहुंच गये। पार्टी दफ्तर में मुलायम ने बर्थडे सेलिब्रेशन के बाद सपाइयों से दिल्ली फतेह का वादा भी लिया। शुक्रवार को भी फिरोजाबाद में एक कार्यक्रम के दौरान उन्होंने अखिलेश यादव संग मंच साझा किया।

Ad Block is Banned