अखिलेश को अभयदान देने के बाद पार्टी अधिवेशन में भाग लेंगे मुलायम!

अखिलेश को अभयदान देने के बाद पार्टी अधिवेशन में भाग लेंगे मुलायम!
Mulayam Singh Yadav

Shatrudhan Gupta | Updated: 29 Sep 2017, 06:11:31 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

समाजवादी पार्टी के राज्य सम्मेलन के संपन्न होने के बाद अब पार्टी के नेता राष्ट्रीय अधिवेशन की तैयारियों में जी जान से जुट गए हैं।

लखनऊ. समाजवादी पार्टी के राज्य सम्मेलन के संपन्न होने के बाद अब पार्टी के नेता राष्ट्रीय अधिवेशन की तैयारियों में जी जान से जुट गए हैं। पांच अक्टूबर को ताज नगरी आगरा में होने वाले पार्टी के 10वें राष्ट्रीय अधिवेशन के लिए कार्यक्रम तय हो गए हैं। पार्टी सूत्र बताते हैं कि अधिवेशन में उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, मध्यप्रदेश, बिहार समेत २५ राज्यों के लगभग १५ हजार पार्टी के प्रतिनिधि हिस्सा लेंगे। समाजवादी पार्टी के १०वें राष्ट्रीय अधिवेशन में पार्टी अध्यक्ष के नाम पर भी मुहर लगनी है। मालूम हो कि पहले पार्टी का अध्यक्ष तीन साल के लिए निर्वाचित होता था, लेकिन अब नए संविधान के तहत अब राष्ट्रीय अध्यक्ष पद पर पांच साल के लिए निर्वाचन होगा।

खास बात यह है कि अब तक अखिलेश से नाराज चल रहे उनके पिता मुलायम सिंह यादव भी इस सम्मेलन में भाग ले सकते हैं। मालूम हो कि पिछले दिनों मुलायम ने कहा था कि वे पार्टी के राष्ट्रीय अधिवेशन में भाग नहीं लेंगे, लेकिन २५ सितंबर को मुलायम की प्रेस कॉन्फ्रेस के बाद स्थितियां बदलीं। इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में मुलायम ने अखिलेश को अभयदान देते हुए अपना आशाीर्वाद दिया था। इसके बाद अखिलेश मुलायम से मिलने उनके आवास पर गए थे। इसके बाद माना जा रहा है कि पार्टी संस्थापक व संरक्षक मुलायम सिंह यादव राष्ट्रीय अधिवेशन में हिस्सा ले सकते हैं।

चार को ही आगरा पहुंच जाएंगे अखिलेश

पार्टी के सम्मेलन स्थल तारघर का मैदान सदर बाजार आगरा कैंट में राष्ट्रीय अधिवेशन की तैयारियां तेज कर दी गई हैं। इसकी मॉनिटरिंग राजधानी लखनऊ से की जा रही है। वहीं, पूरे दिन के कार्यक्रम तय कर दिए गए हैं। इसके तहत 5 अक्टूबर को सुबह 9 बजे समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव झंडारोहण कर सम्मेलन की शुरुआत करेंगे। इसी दिन आर्थिक राजनीतिक प्रस्ताव भी पेश होगा, जिस पर प्रतिनिधि सम्मेलन में चर्चा होगी। वर्तमान की राजनीतिक स्थिति, केन्द्र सरकार की नीतियों और राष्ट्र के समक्ष अन्य ज्वलंत मुद्दों पर भी प्रतिनिधि सम्मेलन में चर्चा होगी। सम्मेलन में खासकर 2019 के लोकसभा चुनाव की तैयारियों में मंथन किया जाएगा। सम्मेलन के पहले 4 अक्टूबर को राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक होगी। इसके बाद शाम पांच बजे पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करेंगे। सम्मेलन में भाग लेने के लिए अखिलेश यादव चार अक्टूबर को लखनऊ से आगरा पहुंच जाएंगे।

राष्ट्रीय अधिवेशन में भाग ले सकते हैं मुलायम

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में करारी हार के बाद पहली बार अखिलेश यादव अपने पिता मुलायम सिंह यादव से मिलने उनके घर पहुंचे थे। बाप-बेटे की ये मुलाकात करीब 25 मिनट चली, जिसमें दोनों तरफ से गिले-शिकवे दूर करने की कोशिश हुई। पार्टी सूत्र बताते हैं कि अखिलेश के आने से मुलायम भावुक हो गए। उनका गला रुंध गया। काफी देर तक दोनों सिर्फ एक-दूसरे को देखते रहे और चुप रहे। बातचीत की शुरुआत अखिलेश यादव ने की। माना जा रहा है अखिलेश ने उन्हें पांच अक्टूबर को आगरा में होने वाले राष्ट्रीय अधिवेशन में बतौर संरक्षक आने का निमंत्रण दिया। सूत्र बताते हैं कि मुलायम ने राष्ट्रीय अधिवेशन में जाने की स्वी$कृति भी दे दी है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned