दवा से ठीक होगा मल्टीपल फ्रैक्चर, रक्त के माध्यम से जुड़ेंगी टूटी हड्डियां

केंद्रीय औषधीय अनुसंधान संस्थान (CDRI) के वैज्ञानिकों ने मल्टीपल फ्रैक्चर को जोड़ने की ऐसी दवा खोज निकाली है, जो खून के साथ प्रभावित जगह जाकर हड्डी को शीघ्र जोड़ने का काम करेगा।

By: Karishma Lalwani

Updated: 12 Apr 2021, 05:22 PM IST

लखनऊ. केंद्रीय औषधीय अनुसंधान संस्थान (CDRI) के वैज्ञानिकों ने मल्टीपल फ्रैक्चर को जोड़ने की ऐसी दवा खोज निकाली है, जो खून के साथ प्रभावित जगह जाकर हड्डी को शीघ्र जोड़ने का काम करेगा। इस औषधि का नाम लेक्टोफेरीन पेपटाइड से एलपी 2 है। इस औषधि को इंजेक्शन के माध्यम से दिया जाएगा। इस पर शोध करने वाले डॉक्टर नैवेद्य चट्टोपाध्याय का कहना है कि अब तक चिकित्सक मल्टीपल फ्रैक्चर की सर्जरी के समय जिस दवा का प्रयोग करते हैं, उसका इस्तेमाल ऑपरेशन करते समय सिर्फ एक बार ही किया जा सकता है। दवा का रेट भी ज्यादा होता है। सीडीआरआई के वैज्ञानिकों द्वारा तैयार दवा को सर्जरी के बाद इंजेक्शन के माध्यम से दिया जाता है। यह शोध अमेरिकन केमिकल सोसायटी के प्रतिष्ठित जर्नल में आठ अप्रैल को प्रकाशित हुआ है।

ये भी पढ़ें: लॉन्च हुई किडनी से स्टोन निकालने की दवा, एनबीआरआई ने की दवा की खोज

जल्द शुरू होगा क्लिनिकल ट्रायल

डॉ. चट्टोपाध्याय ने कहा कि न केवल मल्टीपल फ्रैक्चर बल्कि सामान्य फ्रैक्चर व ऑस्टियोपोरोसिस से होने वाले फ्रैक्चर में भी यह दवा कारगर होगी। जल्द ही इसका क्लिनिकल ट्रायल भी शुरू हो जाएगा। इस पर डॉ.नैवेद्य चट्टोपाध्याय के अलावा शिवानी शर्मा, डॉ.जीमत कुमार घोष, कल्याण मित्रा, माधव एन. मुगाले, अमिताभ बंधोपाध्याय, चिराग कुलकर्णी, कोनिका पोरवाल, नीरज के.वर्मा, मुनीश के.हरिऔध, देवेश पी. वर्मा, अमित कुमार, मोहम्मद सईद और शुभाशीष पाल ने शोध किया है।

ये भी पढ़ें: Corona Vaccination : कोविशील्ड वैक्सीन लगवाने से आखिर क्यों कतरा रहे हैं लोग? जानें- विशेषज्ञों की राय

Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned