राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस का आयोजन 10 अगस्त को, कार्यशाला सम्पन्न

राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस का आयोजन 10 अगस्त को, कार्यशाला सम्पन्न

By: Ruchi Sharma

Published: 20 Jul 2018, 06:02 PM IST

लखनऊ. आगामी 10 अगस्त को होनेवाले राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस के विषय में आज मुख्य चिकित्साधिकारी कार्यालय के सभागार मे एक कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला का उद्घाटन मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर नरेंद्र अग्रवाल ने किया। कार्यशाला का उद्घाटन करते हुए मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि सभी स्कूल और आंगनवाड़ी में 1 से 19 साल के बच्चों लड़के और लड़कियों को डिवर्मिंग की दवाई खिलाई जाएगी ,जिससे बच्चों की बेहतर सेहत, पोषण, स्कूल में बच्चों की उपस्थिति में बढ़ोतरी और बेहतर जीवन हो । कार्यक्रम के नोडल अधिकारी अपर मुख्य अधिकारी डॉक्टर संजय कुमार ने बताया कि स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग ,शिक्षा विभाग, महिला एवं बाल विकास, शहरी विकास विभाग, ग्रामीण विकास विभाग, जनजाति विभाग, पेयजल एवं स्वच्छता विभाग, पंचायती राज विभाग, मानव संसाधन विकास विभाग, एविडेंस एक्शन डिवर्म इन द वर्ल्ड इनिशिएटिव, और सभी डेवलपमेंट पार्टनर के साथ मिलकर इस राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस का आयोजन किया जा रहा है।

उन्होंने बताया कि बच्चों में आमतौर पर नंगे पर खेलना घूमना ,हाथ धोए बिना खाना खाना, खुले में शौच करना, शौच करने के बाद हाथ नहीं धोना, फल व सब्जियां बिना धोए खाना, खाने को ढक के नहीं रखना, जिससे खाना दूषित हो जाता है. इस प्रकार के व्यवहार देखे जाते हैं जिससे विभिन्न प्रकार के कृमि का संक्रमण उनके अंदर हो जाता है कृमि संक्रमण अस्वच्छता के कारण होता है।

संक्रमित मिट्टी के संपर्क द्वारा कृमि संक्रमण संचालित होता है डी.सी.पी.एम. श्री विष्णु ने बताया कि कृमि संक्रमण के लक्षणों की जितनी अधिक मात्रा होगी, संक्रमित व्यक्ति के लक्षण उतने अधिक होंगे। तीव्र संक्रमण से कई लक्षण हो सकते हैं. जैसे दस्त पेट में दर्द, कमजोरी उल्टी और भूख की कमी, हल्के संक्रमण वाले बच्चों में आमतौर पर कोई लक्षण दिखाई नहीं देते।

डा.एस.के.सक्सेना तथा जिला स्वास्थ्य शिक्षा सूचना अधिकारी श्री योगेश रघुवंशी ने भी भाग लिया ।कार्यशाला में नगरीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के अधीक्षक, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के अधीक्षक तथा आईसीडीएस विभाग से सीडीपीओ ,मुख्य सेविका तथा शिक्षा विभाग के प्रतिनिधि भी उपस्थित थे। डा. संजय कुमार ने बताया कि जो बच्चे 10 अगस्त को दवा खाने से छूट जाएंगे उनको माप अप राउंड में 17 अगस्त को एल्बेंडाजोल की गोली खिलाई जाएगी।

Ruchi Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned