@NHAI सुल्तानपुर-लखनऊ #Road को फरवरी, 2019 तक पूर्ण करने के निर्देश

@NHAI सुल्तानपुर-लखनऊ #Road को फरवरी, 2019 तक पूर्ण करने के निर्देश

Anil Ankur | Publish: Sep, 02 2018 04:56:14 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

31 दिसम्बर तक सभी मजरों का विद्युतीकरण कर सौभाग्य योजना के तहत बिजली कनेक्शन दिया जाए

 

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राष्ट्रीय राजमार्ग वाराणसी-सुल्तानपुर-लखनऊ को फरवरी, 2019 तक पूर्ण करने को कहा। बी0एच0यू0 के कार्याें को तेजी से जनवरी, 2019 तक पूर्ण कराने के निर्देश दिये। सर सुन्दर लाल चिकित्सालय, राजकीय चिकित्सालय पाण्डेयपुर की धीमी प्रगति पर असंतोष व्यक्त करते हुए तेजी लाने के निर्देश दिये।

पराग डेयरी रामनगर में 4 लाख लीटर क्षमता के प्लाण्ट के ठीक से संचालन किये जाने के सम्बन्ध में मुख्यमंत्री ने सितम्बर माह में 15 हजार दुग्ध समितियां बनवाने के निर्देश दिए तथा उनका सम्मेलन कराने को कहा। बैठक में काशी विश्वनाथ मन्दिर अन्न क्षेत्र निर्माण कार्य, रामनगर चिकित्सालय, गंगा प्रदूषण नियंत्रण, दीनापुर व गोइढा एस0टी0पी0 कार्य आदि की प्रगति की समीक्षा की। शाही नाले की सफाई में सुरक्षा मानकों का ध्यान रखने के निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री ने वरुणा नदी चैनलाइज़ेशन का कार्य दिसम्बर तक तथा सारनाथ में ध्वनि व प्रकाश व्यवस्था कार्य 15 अक्टूबर, 2018 तक पूर्ण करने को कहा। उन्होंने कहा कि काशी में सीएनजी व इलेक्ट्रिक बसें चलें, डीजल-पेट्रोल के वाहन रिप्लेस हों, ऐसा प्लान तैयार किया जाए।
मुख्यमंत्री ने आईपीडीएस की समीक्षा में निर्देश दिए कि किसी भी कार्य से खोदी गई सड़क एक सप्ताह में हर हाल में दुरस्त हो जाए, ताकि आम जन को दिक्कत नहीं हो। काशी की सड़कों पर गड्ढा नहीं दिखे। ग्रामीण विद्युतीकरण की समीक्षा में निर्देशित किया कि 31 दिसम्बर तक सभी मजरों का विद्युतीकरण कर सौभाग्य योजना के तहत बिजली कनेक्शन दिया जाए। 25 दिसम्बर को पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी के जन्मदिवस पर गांव-गांव विद्युत उत्सव मनाया जाए। प्रदेश में एक वर्ष में 72 हजार मजरों में विद्युतीकरण हुआ तथा लगभग 48 लाख कनेक्शन दिए गए हैं। उन्होंने कन्वेंशन सेन्टर, कान्हा उपवन की प्रगति की समीक्षा की।

कानून व्यवस्था की समीक्षा में मुख्यमंत्री ने कहा कि काशी एक महत्वपूर्ण धार्मिक व पर्यटन नगरी है। इसका पूरे विश्व में संदेश जाता है। देश-विदेश के पर्यटक आते हैं। सुरक्षा यहां की विषेष प्राथमिकता है। महिला सुरक्षा के प्रति राज्य सरकार संवेदनषील है। थानाध्यक्षों की तैनाती मेरिट पर हो। किसी गैर-कानूनी कार्य में पुलिस की संलिप्तता नहीं हो। थाने क्राइम फ्री बनें। थाना, तहसील, चकबन्दी आदि कार्यालयों में, जहां आम जन कार्य से जाता है, वहां से अवैध पैसा वसूली की षिकायत नहीं आनी चाहिए। ट्रैफिक व्यवस्था के लिए इंटीग्रेटिड ट्रैफिक सिस्टम काषी में लागू कराया जाए। पुलिस की फुट पैट्रोलिंग हो। सड़कों, चैराहों पर पुलिस की मौजूदगी दिखे। डायल 100 ज़ीरो टाइम रिस्पाॅन्स करे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जनवरी, 2019 में एन0आर0आई0 सम्मेलन कार्यक्रम है। उससे पूर्व काषी स्वच्छ व सुन्दर बने। काषी आने वाला हर व्यक्ति अच्छा भाव लेकर जाए, ताकि विश्व में अच्छा संदेश पहुंचे। काषी विशिष्ट है, इसे अतिविषिष्ट व सुन्दर बनाएं।

Ad Block is Banned