UP के 10 जनपदों में बदला Night Curfew का समय, अब रात 8 बजे से सुबह 7 बजे तक रहेंगी पाबंदी

Night curfew time change in up

2 हजार से अधिक एक्टिव केस वाले Uttar Pradesh के 10 जनपदों में रात्रि 08 बजे से प्रातः 07 बजे तक कर्फ्यू (corona curfew) लगाने के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा कक्षा 1 से 12वीं तक के सभी स्कूलों (school closed in UP) को 15 मई तक बंद कर दिया गया है।

By: Rahul Chauhan

Updated: 15 Apr 2021, 05:46 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

लखनऊ। Night curfew time change in up. उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस (coronavirus) तेजी से फैल रहा है। गत 24 घंटे में 22 हजार से अधिक नए कोरोना (coronavirus cases in up) के मामले सामने आए हैं। जिसके बाद योगी सरकार सख्त हो गई है। इसके मद्देनजर सरकार ने नाइट कर्फ्यू (night curfew timing in up) के समय में बदलाव किया है। दरअसल, सीएम योगी (cm yogi) ने कोविड-19 संक्रमण पर प्रभावी नियंत्रण के लिए गठित की गई टीम-11 के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक की। इस दौरान कोरोना गाइडलाइन (night curfew guidelines) का सख्ती से पालन करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने लखनऊ, प्रयागराज, कानपुर नगर, वाराणसी, गोरखपुर, गौतमबुद्ध नगर, गाजियाबाद, मेरठ सहित 2 हजार से अधिक एक्टिव केस वाले प्रदेश के 10 जनपदों (10 districts of up) में रात्रि 08 बजे से प्रातः 07 बजे तक कर्फ्यू (corona curfew) लगाने के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा कक्षा 1 से 12वीं तक के सभी स्कूलों को 15 मई तक बंद कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें: यूपी आ रहे हैं तो पढ़ लें ये खबर, कोरोना टेस्ट जरूरी, बिना लक्षण वाले भी रहेंगे आइसोलेशन में

बता दें कि कोरोना संक्रमण एक बार फिर लोगों को अपनी चपेट में ले रहा है। आलम यह है कि अस्पतालों में बेड तक कम पड़ने लगे हैं। इतना ही नहीं, शमशान घाटों पर शवों की लाइन लग गई है। जिसके चलते कई जिलों में शमशान पर टोकन सिस्टम तक शुरू करना पड़ा है। यूपी में पिछले 24 घंटे में 22,439 नए केस आए हैं। जिनमें लखनऊ में रिकॉर्ड 5183, प्रयागराज में 1888, वाराणसी में 1859, कानपुर में 1263 केस, गोरखपुर में 750 केस सामने आए हैं। बिगड़ते हालातों के मद्देनजर योगी सरकार ने अब सख्त नाइट कर्फ्यू का समय भी बदल दिया है।

यह भी पढ़ेंं: लॉकडाउन की आशंका पर ट्रेनों में बढ़ी भीड़, प्रवासियों को घर पहुंचाने के लिए चलीं 13 और ट्रेनें

अन्य राज्यों से आने वाले प्रवासियों को लेकर भी निर्देश

योगी सरकार ने दूसरे राज्यों से यूपी में आ रहे प्रवासियों को लेकर भी नए दिशा-निर्देश दिए हैं। जिसमें कहा गया है कि सभी प्रवासियों का कोरोना टेस्ट करवाना अनिवार्य है। इस दौरान जिन भी लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आएगी, उन्हें 14 दिन तक आइसोलेशन में रखा जाएगा। इसके अलावा जो लोग लक्षणविहीन रहेंगे, उन्हें 7 दिन तक होम आइसोलेशन में रहना होगा।

ऑक्सिजन और रेमडेसिविर इंजेक्शन की निगरानी के भी आदेश

सीएम योगी ने बैठक के दौरान कोविड से बचाव के लिए उपयोगी रेमडेसिविर और ऑक्सिजन की उपलब्धता पर निगरानी रखने के भी आदेश दिए हैं। उन्होंने कहा कि इसके लिए मुख्य सचिव के स्तर से नजर रखी जाए और इसकी रोज समीक्षा की जाएगी। सभी जनपदों में कोविड मरीजों के लिए बेड या ऑक्सिजन की किसी तरह की कोई कमी नहीं है। जिलेवार हर दिन स्थिति की समीक्षा भी की जाए। इसके अलावा सीएम ने लखनऊ में प्राइवेट मेडिकल कॉलेजों टीएस मिश्र हॉस्पिटल, इंटीग्रल और हिन्द मेडिकल कॉलेज को भी डेडिकेटेड कोविड हॉस्पिटल बनाने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा कि अगले 2 दिनों में इन अस्पतालों के अंदर अतिरिक्त बेड उपलब्ध कराए जाएं।

coronavirus
Show More
Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned