उत्तर प्रदेश महोत्सव 2020 के उन्नीसवें दिन हुआ रंगारंग कार्यक्रम

फ्यूचर लीडर ऑफ यूनिवर्स बनने की अवलोकना की।

By: Ritesh Singh

Published: 26 Dec 2020, 08:02 PM IST

लखनऊ , सृजन फाउंडेशन द्वारा कथा मैदान, आशियाना में आयोजित किये जा रहे उत्तर प्रदेश महोत्सव 2020 के उन्नीसवें दिन के कार्यक्रम का शुभारंभ वर्चस्व वेलफेयर के कार्यक्रम 'कुहासा छट रहा है। द्वारा किया गया। तत्पश्चात तहज़ीब ए अवध द्वारा कवि सम्मेलन एवं मुशायरे का आयोजन किया गया। रात्रि में वात्सल्य फाउंडेशन द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

वर्चस्व वेलफेयर ऑर्गेनाइजेशन के तत्वाधान में हमारी संस्कृति हमारी धरोहर तले कुहासा छठ रहा है कार्यक्रम रखा गया जिसकी विशेषता भारतीय प्राचीन सभ्यता संस्कृति के अपने नवांकुर बच्चों में किस प्रकार सृजन व पोषण किया जा सके उस पर एक वर्षीय ई पोर्टल के जरिए मिशन चलाया गया।

जिसका शुभारंभ गायत्री परिवार के चीफ ट्रस्टी उमानंद शर्मा ने किया। वर्चस्व वेलफेयर की अध्यक्षा प्रतिभा बालियान ने इस मिशन में जुड़े लीजेंट्स को नेतृत्व सम्मान देते हुए फ्यूचर लीडर ऑफ यूनिवर्स बनने की अवलोकना की।

तहज़ीब ए अवध द्वारा कवि सम्मेलन एवं मुशायरे का अंश

बारी बारी से सारे हमें छोड़कर
चल दिए सब हमारे हमें छोड़कर
©️बलवंत सिंह

मोहब्बत के नगर तक आ गया है
दीवाना उसके घर तक आ गया है
©️शहरयार जलालपुरी

अपने आँशु दिए हैं और अब मेरे लिए
आप आंखें नम करेंगे,आप रहने दीजिये
©️फ़ार्रुख़ आदिल

छोटी छोटी बातों पर दिल ना छोटा कीजिए
ज़िन्दगी छोटी सही मग़र दिन तो बड़ा है
©️अमित हर्ष

तुम्हारे इश्क़ की ताक़त से टूट सकता है
ये कुफ़्र सिर्फ़ मोहब्बत से टूट सकता है
©️अमीर फ़ैसल

किसी मसनद पे बैठे शख़्स से यारी नहीं करती
ग़ज़ल वो है जो शाहों की तरफ़दारी नहीं करती
©️शिवम तिवारी

न कोई शोर है न हलचल है
मैं हूँ,नेज़ा है और मक़तल है
©️शाहबाज़ तालिब

मुसीबत का ये लम्हा काटना है
मुझे औरों से अच्छा काटना है
©️हर्षित मिश्रा

एक बात ऐसी थी जो मेरी आन पर आ पड़ी
बस इसी बात से तीर कमान पर आ पड़ी
©️आशुतोष पाण्डेय

Show More
Ritesh Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned