भाजपा विधायक ने मंत्री से चुनाव का सिम्बल छीना, फिर भाजपा ने दे दिया कारण बताओं नोटिस

भाजपा ने अनुशासन लांघने वालों के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही किए जाने का र्निणय लिया

By: Anil Ankur

Published: 12 Nov 2017, 06:17 PM IST

लखनऊ। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डा महेंद्र नाथ पाण्डेय के निर्देश पर प्रदेश महामंत्री अशोक कटारिया ने फतेहपुर (सदर) विधायक विक्रम सिंह को कारण बताओं नोटिस जारी किया है। फतेहपुर (सदर) के विधायक विक्रम सिंह जी को क्षेत्रीय मंत्री तथा फतेहपुर के निकाय चुनाव प्रभारी अविनाश सिंह के साथ स्थानीय निकाय चुनाव में संगठन की मर्यादा का उलंघन करने, अपने निजी समर्थको हेतु टिकट बदलवाने हस्ताक्षर युक्त सिम्बल फार्म छीनने तथा भाजपा नेतृत्व के प्रति अपमान जनक शब्दों के प्रयोग करने के आरोप में 7 दिन के अन्दर स्पष्टीकरण देने हेतु नोटिस जारी किया है। फतेहपुर (सदर) के विधायक विक्रम सिंह जी को क्षेत्रीय मंत्री तथा फतेहपुर के निकाय चुनाव प्रभारी अविनाश सिंह के साथ स्थानीय निकाय चुनाव में संगठन की मर्यादा का उलंघन करने, अपने निजी समर्थको हेतु टिकट बदलवाने हस्ताक्षर युक्त सिम्बल फार्म छीनने तथा भाजपा नेतृत्व के प्रति अपमान जनक शब्दों के प्रयोग करने के आरोप में 7 दिन के अन्दर स्पष्टीकरण देने हेतु नोटिस जारी किया है। भारतीय जनता पार्टी ने पार्टी अनुशासन की मार्यादा को लांघने वालों के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही किए जाने का र्निणय लिया हैं।

उल्लेखनीय है कि भाजपा में इन दिनों टिकट को लेकर मारा मारी चल रही है। कहा जा रहा है कि भाजपा के मंत्री अपने नजदीकियों को टिकट दिलवाने में सफल रहे हैं वहीं भाजपा के विधायकों को संगठन ने नजरंदाज किया। इस बात से पार्टी के विधायक नाराज थे। यही कारण है कि फतेहपुर में यह घटना हो गई।

इसके पहले प्रतापगढ रायबरेली के विधायक ने अपने ही मंत्री के खिलाफ मुहिम चलाई थी कि वह उनकी नहीं सुनते और अधिकारी भी भाजपा के विधायकों की नहीं सुनते। इस बात को लेकर भाजपा में नाराजगी बढती जा रही है। भाजपा के लखनउ के विधायक सुरेश चंद्र श्रीवास्तव ने आरोप लगाया था कि अधिकारी विधायकों की नहीं सुनते। मंत्रियों की तरफदारी करने पर संगठन से भाजपा के पदाधिकारी नाराज हैं। अब यही नाराजगी टिकट के समय सडक पर दिखाई दे रही है।

BJP
Anil Ankur Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned