उत्तर प्रदेश के विद्यार्थियों से टीबी को लेकर की गई चर्चा , पढ़िए पूरी खबर

टीबी हारेगा देश जीतेगा जन आंदोलन अभियान

By: Ritesh Singh

Updated: 02 Mar 2021, 07:05 PM IST

लखनऊ, (National caries eradication) राष्ट्रीय क्षय उन्मूलन कार्यक्रम तथा जर्मन लेप्रोसी टीबी रिलीफ एसोसिएशन (जीएलआरए ) के संयुक्त तत्वावधान में जय नारायण डिग्री कॉलेज (केकेसी) लखनऊ में टीबी हारेगा - देश जीतेगा जन आंदोलन अभियान के अंतर्गत राष्ट्रीय सेवा योजना (एनएसएस) के विद्यार्थियों के साथ क्षय रोग मुक्त भारत बनाने की विस्तृत योजना पर चर्चा हुई । इस मौके पर (Senior Treatment Supervisor Abhay Chandra Mitra) सीनियर ट्रीटमेंट सुपरवाईजर अभय चंद्र मित्रा ने कहाकि (Tuberculosis a bacteria) क्षय रोग एक बैक्टीरिया से होता है जो कि संक्रमित व्यक्ति के खुले में खांसने और छींकने से फैलता है । उन्होंने कहा यह पूरी तरह से ठीक होने वाली बीमारी है लेकिन इसके लिए जरूरी है कि पूरा इलाज किया जाये। टीबी के इलाज को बीच में नहीं छोड़ना चाहिए। ( Tuberculosis a bacteria० )उन्होंने कहा कि जिला क्षय रोग अधिकारी डा. ए.के.चौधरी के नेतृत्व में टीबी हारेगा देश जीतेगा जन आंदोलन अभियान के तहत जिले को (TB free campaign) टीबी मुक्त अभियान बनाने के लिए हम सतत प्रयास कर रहे हैं और हमें आशा है कि हम इस अभियान में सफल भी होंगे।

(Senior Treatment Supervisor Abhay Chandra Mitra) अभय चंद्र मित्रा ने बतायाकि युवा विद्यार्थियों एवं एनएसएस के सक्रिय सहयोग से टीबी के सम्बन्ध में जानकारी सुदूर क्षेत्रों में समाज सेवा के दौरान लोगों को मिल पायेगी | वह लोगों को समाज सेवा के दौरान ( TB free campaign) टीबी की जांच, इलाज आदि के बारे में बताएंगे । उन्होंने कहा युवा शक्ति ऊर्जा से भरी होती है वह जो चाहे उसे हासिल कर सकती है। इसलिए टीबी हारेगा देश जीतेगा अभियान में हमने इन्हे अपने साथ में जोड़ा है ताकि वर्ष 2025 तक देश को टीबी मुक्त बनाने के (Prime Minister Narendra Modi) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सपने को साकार करने में इनका अहम् योगदान रहे। वरिष्ठ उपचार पर्यवेक्षक लोकेश कुमार वर्मा ने बतायाकि टीबी की जांच और इलाज सभी सरकारी स्वास्थ्य केन्द्रों पर निःशुल्क उपलब्ध है। साथ ही सरकार द्वारा टीबी के मरीजों को इलाज के दौरान पोषण के लिए प्रतिमाह 500 रूपये उनके बैंक खाते में सीधे ट्रांसफर किये जाते हैं।

इस मौके पर एनएसएस के छात्रों द्वारा एक स्वर में यह विश्वास दिलाया गया कि वह( TB free campaign) टीबी उन्मूलन में अपना सक्रिय सहयोग करेंगे। इसी क्रम में छात्रा स्नेहा पाल ने कहा कि हम लोगों को टीबी से बचाव के लिए जागरूक करने के साथ ही यह भी बताएँगे कि इसे छिपायें नहीं।यदि घर में या घर के आस-पास कोई व्यक्ति जिसमें टीबी के लक्षण दिखें तुरंत स्वास्थ्य केंद्र पर जाएँ और टीबी की जांच कराएँ । तभी हम देश को वर्ष 2025 तक टीबी मुक्त कर पायेंगे।

Show More
Ritesh Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned