scriptNutrition school organized through video conferencing | वीडियो कान्फ्रेन्सिंग के माध्यम से किया गया पोषण पाठशाला का आयोजन | Patrika News

वीडियो कान्फ्रेन्सिंग के माध्यम से किया गया पोषण पाठशाला का आयोजन

पोषण के सन्देशों को घर-घर तक पहुॅंचाने की परिकल्पना को साकार करने के लिए जन-मानस एवं लाभार्थियों को विभाग की सेवाओं, पोषण प्रबन्धन, कुपोषण से बचाव के उपाय, पोषण शिक्षा आदि के सम्बन्ध में प्रमुख सचिव महिला कल्याण एवं बाल विकास पुष्टाहार अनीता सी मेश्राम की अध्यक्षता में ‘‘पोषण पाठशाला‘‘ का मासिक आयोजन किया जायेगा।

लखनऊ

Updated: May 27, 2022 08:32:59 pm

प्रमुख सचिव महिला कल्याण एवं बाल विकास पुष्टाहार अनीता सी मेश्राम ने श्रृंखला का प्रथम आयोजन 26 मई, 2022 दिन वृहस्पतिवार को प्रारम्भ किया गया। इस कार्यक्रम की शुरूआत में निदेशक, राज्य पोषण मिशन कपिल सिंह ने प्रमुख सचिव की परिकल्पना उपरान्त पोषण पाठशाला का आयोजन किया गया। जन-मानस के पोषण एवं स्वास्थ्य में सुधार के लिए माननीय प्रधानमंत्री जी द्वारा प्रारम्भ किये गए पोषण अभियान का मुख्य फोकस जन-भागीदारी व जन-आन्दोलन है। प्रमुख सचिव, बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग एवं महानिदेशक, राज्य पोषण मिशन उल्लेख किया गया कि प्रदेश सरकार कुपोषण को मिटाने के लिए प्रतिबद्व है। प्रमुख सचिव ने ‘‘माँ का दूध हर बच्चे का अधिकार तथा प्रकृति का उपहार’’ बताया। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार की प्राथमिकता कार्यक्रमों के अनुरूप आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों के क्षमतावर्द्वन एवं तकनीक के उपयोग से उनकी कार्य कुशलता को बढ़ाने तथा विभागीय कार्यक्रमों के सफल क्रियान्वयन हेतु उन्हें विगत वर्षों में स्मार्टफोन तथा ग्रोथ मॉनिटरिंग डिवाइस उपलब्ध कराया गया है, जिसके सहयोग से आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों द्वारा नियमित रूप से बच्चों का वजन व लम्बाई की माप ली जा रही है तथा उनके स्वास्थ्य की नियमित निगरानी कर पोषण स्तर में सुधार लाया जा रहा है।
निदेशक, बाल विकास सेवा एवं पुष्टाहार विभाग डा0 सारिका मोहन द्वारा पोषण पाठशाला की रूपरेखा प्रस्तुत करते हुए अवगत कराया गया कि विभाग द्वारा 10 मई से 30 जून 2022 के मध्य "NO WATER ONLY BREAST FEEDING COMPAIGN" (पानी नहीं केवल स्तनपान अभियान) चालाया जा रहा है, इसलिए इस प्रथम पोषण पाठशाला कार्यक्रम का मुख्य थीम ‘‘शीघ्र स्तनपान-केवल स्तनपान‘‘ निर्धारित की गयी। शीघ्र स्तनपान-केवल स्तनपान की आवश्यकता, महत्व, उपयोगिता आदि विषय के प्रदेश व राष्ट्रीय स्तर के ख्याति प्राप्त व दक्ष वक्ताओं द्वारा पोषण पाठशाला में चर्चा किए जाने पर प्रकाश डाला गया। लाभार्थियों को बेहतर से बेहतर जानकारी प्रदान करना, भ्रान्तियों को दूर करना तथा स्वास्थ्य व पोषण के प्रति जागरूक करना इसका मुख्य उददेश्य रहा।
विभाग द्वारा कुपोषण मिटाने में विगत वर्षों में जो उत्कृृष्ट कार्य किए गए हैं, उसी का परिणाम है कि भारत सरकार द्वारा कराए गए राष्ट्रीय स्तर के सर्वेक्षण एन0एफ0एच0एस0-05 में एन0एफ0एच0एस0 -04 की अपेक्षा उत्तर प्रदेश के आंकड़ों मंे अपेक्षित सुधार हुआ है तथा राष्ट्रीय स्तर के कई मानकों में उत्तर प्रदेश के आंकड़े राष्ट्रीय औसत से बेहतर हैं। विभाग के लाभार्थियों व आम जन-मानस को स्वास्थ्य शिक्षा उपलब्ध कराने हेतु पोषण पाठशाला का प्रत्येक माह आयोजन किया जाएगा, जिसमें प्रत्येक माह पोषण एवं स्वास्थ्य शिक्षा से सम्बन्धित किसी एक विषय पर विभाग के फील्ड स्तर के कार्मिकों एवं लाभार्थियों के साथ संवाद स्थापित किया जाएगा। जैसा कि सर्वविदित है कि मॉ का दूध अमृत समान है तथा बच्चांे के लिए गर्भावस्था से लेकर प्रथम 1000 दिन स्वर्णिम काल होता है, जिसमें यदि उसके पालन-पोषण आदि पर विशेष ध्यान दिया जाए और जन्म के तुरन्त बाद अनिवार्यतः स्तनपान कराने के साथ-साथ 06 माह तक केवल स्तनपान कराया जाए तो वह बच्चा स्वस्थ व सुपोषित होगा। एक स्वस्थ बच्चा स्वस्थ समाज व स्वस्थ राष्ट्र का निर्माण करता है।
Yogi Adityanath on Kuposhan
Yogi Adityanath on Kuposhan

विषय विशेषज्ञों के रूप में डा0 रेनू श्रीवास्तव, डा0 मोहम्मद सलमान खान व डा0 मनीष कुमार सिंह द्वारा शीघ्र स्तनपान-केवल स्तनपान विषय पर विस्तार से चर्चा की गयी तथा जन्म के एक घण्टे के अन्दर मॉं का दूध अनिवार्यतः पिलाने तथा छः माह तक केवल मॉं का दूध (पानी, शहद, घुट्टी आदि कुछ भी नहीं पिलाना है) पिलाने की महत्ता, आवश्यकता तथा उसके लाभ के साथ-साथ समाज में फैैली भ्रान्तियों के सम्बन्ध में लाभार्थियों को परामर्श दिया गया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

मौसम अलर्ट: जल्द दस्तक देगा मानसून, राजस्थान के 7 जिलों में होगी बारिशइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलस्कूलों में तीन दिन की छुट्टी, जानिये क्यों बंद रहेंगे स्कूल, जारी हो गया आदेश1 जुलाई से बदल जाएगा इंदौरी खान-पान का तरीका, जानिये क्यों हो रहा है ये बड़ा बदलावNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयमोदी सरकार ने एलपीजी गैस सिलेण्डर पर दिया चुपके से तगड़ा झटकाजयपुर में रात 8 बजते ही घर में आ जाते है 40-50 सांप, कमरे में दुबक जाता है परिवार

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: खतरे में MVA सरकार! समर्थन वापस लेने की तैयारी में शिंदे खेमा, राज्यपाल से जल्द करेंगे संपर्क?Maharashtra Political Crisis: एकनाथ शिंदे की याचिका पर SC ने डिप्टी स्पीकर, महाराष्ट्र पुलिस और केंद्र को भेजा नोटिस, 5 दिन के भीतर जवाब मांगाMaharashtra Political Crisis: सुप्रीम कोर्ट से शिंदे खेमे को मिली राहत, अब 12 जुलाई तक दे सकते है डिप्टी स्पीकर के अयोग्यता नोटिस का जवाबPM Modi in Germany for G7 Summit LIVE Updates: 'गरीब देश पर्यावरण को अधिक नुकसान पहुंचाते हैं, ये गलत धारणा है' : G-7 शिखर सम्मेलन में बोले पीएम मोदीयूक्रेन में भीड़भाड़ वाले शॉपिंग सेंटर पर रूस ने दागी मिसाइल, 2 की मौत, 20 घायल"BJP से डर रही", तीस्ता की गिरफ़्तारी पर पिनाराई विजयन ने कांग्रेस की चुप्पी पर साधा निशानाअंबानी परिवार की सुरक्षा को लेकर सुप्रीम कोर्ट कल करेगा सुनवाई, जानिए क्या है पूरा मामलाMumbai News Live Updates: शिवसैनिकों से बोले आदित्य ठाकरे- हम दिल्ली में भी सत्ता में आएंगे
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.