कुष्ठ रोगियों से किसी भी तरह का भेदभाव न करने की दिलाई शपथ

समय से इलाज कराने से बीमारी से मिल सकता है छुटकारा- सीएमओ

 

 

By: Ritesh Singh

Published: 30 Jan 2021, 08:10 PM IST

लखनऊ, कुष्ठ रोग बैक्टीरिया से होने वाली संक्रामक बीमारी है। जिसकी समय से पहचान बहुत जरूरी है क्योंकि समय से इलाज न होने पर अंगों पर दुष्प्रभाव पड़ता है और उनमें विकृति आ जाती है। इससे न केवल व्यक्ति बल्कि उसका पूरा परिवार प्रभावित होता है। यह बातें मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. संजय भटनागर ने शनिवार को राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी की पुण्यतिथि पर पलटन छावनी अलीगंज में आयोजित राष्ट्रीय कुष्ठ उन्मूलन कार्यक्रम के तहत स्पर्श कुष्ठ जागरूकता अभियान के शुभारम्भ के अवसर पर कहीं।कार्यक्रम में मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने सभी को शपथ दिलाई कि कुष्ठ रोगियों से किसी भी प्रकार का भेदभाव नहीं किया जायेगा।

इस अवसर पर जिला कुष्ठ रोग अधिकारी अम्बुज सिंह ने कहा - कुष्ठ रोग एक संक्रामक रोग है, जो हजारों वर्षों से चला आ रहा है। इस कारण प्राचीन काल से लोग कुष्ठ रोगियों से भेदभाव करते चले आ रहे हैं। यह आनुवांशिक होता है इसका भी कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं हैं। राष्ट्रीय कुष्ठ उन्मूलन कार्यक्रम के तहत गैर सरकारी संगठनों सहित सामान्य स्वास्थ्य प्रणाली के माध्यम से प्रत्येक वर्ष चिन्हित किए गए सभी मामलों में उपचार निःशुल्क प्रदान किया जाता है। कुष्ठ रोग से प्रभावित व्यक्ति सामान्य जीवन जी सकता है और बच्चे भी पैदा कर सकता है।

इस मौके पर कुष्ठ रोग की जागरूकता से सम्बंधित जादू के खेल का भी आयोजन किया गया।इस अवसर पर जिला कुष्ठ रोग परामर्शदाता डा.शोमित सिंह और अन्य स्वास्थ्यकर्मी उपस्थित थे। जिला कुष्ठ कार्यालय सहित, बाल महिला चिकित्सालय (बीएमसी)अलीगंज, काकोरी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (सीएचसी) काकोरी सहित सभी शहरी एवं ग्रामीण स्वास्थ्य केन्द्रों पर गाँधी जी की पुण्य तिथि पर दो मिनट का मौन रख कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की गयी और कार्यक्रम में उपस्थित स्वास्थ्यकर्मियों को कुष्ठ रोगियों से किसी भी प्रकार का भेदभाव नहीं करने की शपथ दिलाई गयी । आज अभियान के तहत शहर के सभी बस, टेम्पो और ऑटो रिक्शा के पीछे कुष्ठ जागरूकता से संबधित पम्पलेट लगाए गए और लोगों को इससे अवगत भी कराया गया।

अलीगंज बाल महिला चिकित्सालय पर भी जादूगर के शो के माध्यम से कुष्ठ रोग के बारे में जागरूक किया गया ।सीएचसी काकोरी पर अधीक्षक डा. पिनाक त्रिपाठी ने वहां पर उपस्थित लोगों को कुष्ठ रोगियों से किसी भी प्रकार का भेदभाव नहीं करने की सभी को शपथ दिलाई।इस मौके पर एनएमए धर्मेन्द्र दीक्षित, डा. सुनील कुमार, डा. सत्येन्द्र कुमार, ब्लाक समुदाय प्रक्रिया प्रबंधक प्रद्युम्न कुमार मौर्या सहित पैरामेडिकल स्टाफ उपस्थित रहा।

Show More
Ritesh Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned