"'एक राष्ट्र-एक चुनाव‘ है राष्ट्र की जरूरत"

प्रेस क्लब में 'एक राष्ट्र-एक चुनाव' को लेकर चर्चा हुई.

By: Abhishek Gupta

Published: 24 Jul 2018, 09:41 PM IST

लखनऊ. प्रेस क्लब में 'एक राष्ट्र-एक चुनाव' को लेकर चर्चा हुई जिसमें रवींद्र साठे, महानिदेशक, रामभाऊ म्हाळगी प्रबोधिनी ने कहा कि 'एक साथ चुनाव' प्रमुख लोकतांत्रिक सुधार है, जिसका राष्ट्र कई दशकों से इंतजार कर रहा है और इसलिए सर्वसम्मति निर्माण के लिए राष्ट्रव्यापी परिचर्चा आज के समय की आवश्यकता है। 28 जुलाई को लखनऊ में ‘‘एक राष्ट्र-एक चुनाव‘‘ संगोष्ठी का आयोजन होगा।

ये भी पढ़ें- मायावती के ऐलान से सपा में खलबली, राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक पर अखिलेश करेंगे बड़ी घोषणा, पलट सकता है गठबंधन का खेल

ये समस्याग्रस्त मुद्दों के लिए एक कठिन लेकिन संभावित विकल्प हैं-

रवींद्र साठे ने ‘एक राष्ट्र-एक चुनाव‘ की आवश्यकता पर जोर देते हुए कहा कि एक साथ चुनाव आयोजित करने की संभावना की खोज करना सभी समस्याग्रस्त मुद्दों के लिए एक कठिन लेकिन संभावित विकल्प हैं, जो चुनावों की बहुतायत का प्रत्यक्ष परिणाम है। यह बड़ा लोकतांत्रिक सुधार राष्ट्र को स्थायी चुनाव प्रणाली से मुक्त कर देगा और विकास हेतु सुशासन की गति को बढ़ाएगा। 'एक साथ चुनाव' कराने के मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील के बाद राजनीतिक, वैज्ञानिक, शोधार्थी, राजनीतिज्ञ, चुनाव प्रशासक के बीच इस विषय की व्यावहारिकता और कार्यान्वयन क्रियाविधि से संबंधित विभिन्न मुद्दों पर चर्चा एवं विचार-विमर्श शुरू हो गई।

ये भी पढ़ें- तालाब में नहाने गए मासूम बच्चों के साथ हुआ ऐसा जिससे मच गया हड़कंप, देखें वीडियो

ये लोग रहे मौजूद-

इस दौरान जस्टिस वी. एस. कोकजे, पूर्व राज्यपाल, हिमाचल प्रदेश, पूर्व कार्यकारी मुख्य न्यायाधीश, राजस्थान उच्च न्यायलय एवं अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष, विश्व हिन्दू परिषद मौजूद रहे। साथ ही लोकसभा सांसद एवं भारतीय सर्वोच्च न्यायलय की वरिष्ठ अधिवक्ता मीनाक्षी लेखी भी शामिल रहीं।

ये भी पढ़ें- यूपी पुलिस को दूसरे राज्यों से लेनी पड़ रही मदद, प्रशिक्षण के लिए भेजे जा रहे 28000 कांस्टेबल

गंगा सेवा संस्थान, जो कि इस संगोष्ठी की एक सहयोगी संस्था है, के अध्यक्ष अवधेश द्विवेदी भी प्रेस वार्ता में मौजूद रहे।

BJP
Abhishek Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned