दिवाली पर पेंशनर्स को सरकार का गिफ्ट, घर बैठे जमा होगा ऑनलाइन लाइफ सर्टिफिकेट, डाकिया करेगा मदद

- जीवन प्रमाणपत्र बनवाने के लिए नहीं जाना होगा डाकघर

- इंडियन पोस्टल पेमेंट बैंक घर बैठे दे रहा सुविधा

- पोस्टमैन संबंधित व्यक्ति के घर पहुंचकर डिजिटल जीवन प्रमाण पत्र बनवाएगा

- आधार नंबर होगा जरूरी

By: Karishma Lalwani

Published: 13 Nov 2020, 11:35 AM IST

लखनऊ. अब जीवन प्रमाण पत्र बनवाने किए दिव्यांग व बुजुर्ग जनों को डाकघर नहीं जाना होगा। इंडियन पोस्टल पेमेंट बैंक घर बैठे यह सुविधा दे रहा है। आवेदनकर्ता को नजदीकी पोस्टमैन से संपर्क कर उसे सूचना देनी होगी। इसके बाद पोस्टमैन संबंधित व्यक्ति के घर पहुंचकर डिजिटल जीवन प्रमाण पत्र बनवाएगा। इसके लिए 70 रुपये का शुल्क लगेगा। इसके अलावा प्रूफ के लिए आधार नंबर होना जरूरी है।

डाक विभाग और इलेक्ट्रॉनिकी एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के इंडिया पोस्ट पेमेन्ट्स बैंक (आईपीपीबी) ने पेंशन और पेंशनभोगी कल्याण विभाग (डीओपीपीडब्ल्यू) की पहल ‘डाकिये के माध्यम से डिजिटल जीवन प्रमाणपत्र (डीएलसी) जमा करने के लिए डोरस्टेप सर्विस’ की शुरुआत की है।

आधार नंबर जरूरी

जीवन प्रमाण पत्र के लिए पेंशनर्स के पास आधार नंबर होना जरूरी है। इसके अलावा मोबाइल नंबर डाकघर में देना होगा। आधार के माध्यम से डिजिटल प्रमाण पत्र जारी होगा, जो खुद ही पेंशन जारी करने वाले से संबंधित विभाग या बैंक में अपडेट हो जाएगा।

जानें कब हुई थी शुरुआत

ऑनलाइन माध्यम से जीवन प्रमाणपत्र जमा करने की सुविधा के लिए जीवन नवंबर, 2014 में जीवन प्रमाण पोर्टल की शुरुआत हुई थी। इसका उद्देश्य पेंशनभोगियों को जीवन प्रमाणपत्र जमा करने के लिए एक सुविधाजनक और पारदर्शी सुविधा उपलब्ध कराना था।

ये भी पढ़ें: रेलवे के लिए मुसीबत बन रहे छुट्टा जानवर, रेलवे ट्रैक पर मवेशियों के कारण प्रभावित हो रहा ट्रेनों का संचालन

ये भी पढ़ें: यूपी के 25 हजार मदरसा शिक्षकों को मिलेगा 70 दिन का मानदेय, केंद्र ने जारी किए 50 करोड़ 89 लाख रुपये

Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned