पंचायत चुनाव खत्म होते ही लगने लगी चौपालें, एक नवंबर को आएगा रिजल्ट

क्षेत्र पंचायत और जिला पंचायत के चुनाव खत्म होने के बाद अब सबकी निगाहें ग्राम प्रधान के चुनाव पर गड़ गई हैं।

By: यूपी ऑनलाइन

Published: 31 Oct 2015, 03:06 PM IST

लखनऊ. पंचायत चुनाव के अंतिम चरण समाप्त हो चुका है। वोटों की गिनती एक नवंबर को होनी है। अब मैदान में उतरे प्रत्याशी अब अपनी-अपनी थकान मिटाने के अलावा मजार और मंदिरों पर माथा टेक कर जीत के लिए दुआएं मांगनी शुरू कर दी है। वहीं, सूत्रों की माने तो कई प्रत्याशी तो अंधविश्वास पर भरोसा कर बाबाओं से चुनाव का रिजल्ट जानने में जुटे हुए हैं। वहीं, राजधानी के ग्रामीण इलाके में चौपालें लगनी शुरू हो गई हैं।

मैदान में ताल ठोंकने वाले पंचायत सदस्य जीत से पहले ही खेत-खलिहान और चौपालों में बैठकर रणनीति तैयार करने में जुट गए हैं। कहीं-कहीं तो मयखाने भी सज गए हैं। सभी अपनी जीत की दावेदारी कर रहे हैं। अब एक नवंबर को ही पता चल सकेगा कि उंट किस करवट बैठेगा और वोटर किसके सिर पर जीत का सहरा बांधते हैं।

ग्राम प्रधानी के उम्मीदवारों ने बांटने शुरू कर दिए गिफ्ट में एसी-पंखा

सूत्रों के मुताबिक, क्षेत्र पंचायत और जिला पंचायत के चुनाव खत्म होने के बाद अब सबकी निगाहें ग्राम प्रधान के चुनाव पर गड़ गई हैं। ग्राम प्रधानी के कई उम्मीदवारों ने अभी से बाजार सजा रखा है। अपने पक्ष में वोट लेने के लिए चिनहट ब्लॉक में आने वाले गांव मलेशेमऊ में तो मानों रातें भी दिन के बराबर है।

यहां प्रत्याशी वोटरों को रिझाने के लिए उनके घरों में एसी लगवा रहे हैं तो कोई पंखा गिफ्ट कर रहा है। इसके अलावा मतदाताओं को अपने पाले में लेने के लिए प्रधान पद के उम्मीदवार अपने घरों के सामने तो भंडारा लगा रखा है और कहीं पर करीना, बार्डर, बेबो ब्रांड खुल रहा है। हालांकि, इस मामले में चुनाव आयोग के सख्त निर्देश के बावजूद भी यह रवैया अपनाने से मैदान में उतरने वाले उम्मीदवार बाज नहीं आ रहे हैं।

अभी से पकने शुरू हो गये भलाई-बुराई के बीज

चुनाव की आग में अभी से भलाई-बुराई के बीज पकने शुरू हो गए हैं। वहीं, चार चरणों में हुए पंचायत चुनाव समाप्त होते ही चिनहट और बख्शी का तालाब ब्लॉक के अलावा राजधानी के अन्य ब्लाकों में गुरूवार को जैसे ही बैलेट बॉक्स में सभी प्रत्याशियों का भविष्य कैद हुआ तो वह अपने-अपने घरों में थकान मिटाने के बाद मजारों और मंदिरों में माथा टेका और जीत के लिए दुआएं मांगी।
यूपी ऑनलाइन
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned