फूलपुर- गोरखपुर के नतीजों के बाद अब 2019 तक कायम रहेगा सपा-बसपा का गठबंधन!

Prashant Srivastava

Publish: Mar, 14 2018 03:47:44 PM (IST)

Lucknow, Uttar Pradesh, India
फूलपुर- गोरखपुर के नतीजों के बाद अब 2019 तक कायम रहेगा सपा-बसपा का गठबंधन!

उत्तर प्रदेश की गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा सीट पर हुए उपचुनाव के नतीजे आज सामने आ गए। अब 2019 तक कायम रहेगा सपा-बसपा का गठबंधन...

लखनऊ. उत्तर प्रदेश की गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा सीट पर हुए उपचुनाव के नतीजे आज सामने आ गए। दोनों जगह बीजेपी को हार का सामना करना पड़ सकता है। ऐसे में उपचुनाव के लिटमस टेस्ट में सपा -बसपा गठबंधन कामयाब हो गया है। ऐसे में दोनों दलों के नेताओं ने इस गठबंधन को 2019 तक कायम रखने का फैसला किया है। सूत्रों के मुताबिक, दोनों दलों ने फैसला किया है कि आगामी लोकसभा चुनाव मिलकर लड़ेंगे। वहीं 23 मार्च को होने वाले राज्यसभा चुनाव में क्रॉस वोटिंग न हो इसका प्रयास भी दोनों दल मिलकर करेंगे।

मजबूत हुआ साथ

उपचुनाव से लगभग एक सप्ताह पहले हुआ सपा-बसपा का गठबंधन अब 2019 तक जारी रहने की उम्मीद है। जानकारों की मानें तो उपचुनाव के नतीजों से सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव व बसपा सुप्रीमो मायावती ने राहत की सांस ली है। अब दोनों राज्यसभा चुनाव में अपने -अपने विधायकों को एकजुट करने में लग गए हैं। बता दें कि इस उपचुनाव में भाजपा को रोकने के लिए बहुजन समाजवादी पार्टी (बसपा) ने समाजवादी पार्टी (सपा) उम्मीदवारों को समर्थन दिया था। वहीं, कांग्रेस ने दोनों सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे थे।

योगी-मौर्य का गढ़ हुआ कमजोर

इन लोकसभा सीटों के नतीजे न सिर्फ यूपी बल्कि केंद्र की राजनीति के सियासी समीकरणों में भी बड़ा बदलाव लाएंगे। खासतौर पर गोरखपुर और फूलपुर उपचुनाव को राज्य के सीएम योगी आदित्यनाथ , डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य और सपा-बसपा की प्रतिष्ठा से जोड़कर देखा जा रहा था। गोरखपुर-फूलपुर उपचुनाव से पहले यूपी की राजनीति ने नई करवट ली है। मतदान से ठीक पहले जहां चिर प्रतिद्वंद्वी सपा-बसपा ने हाथ मिला लिया, वहीं राज्यसभा चुनाव में सपा-बसपा के साथ कांग्रेस भी भाजपा के खिलाफ एक मंच पर आ गई है।

 

aa

सपा कार्यालय में मना जश्न

सपा दफ्तर में सुबह से ही कार्यकर्ताओं का जमावड़ा लग गया था । जैसे-जैसे सपा रुझानों में आगे बढ़ती दिखी ये जमावड़ा बढ़ता गया। दोनों जगह जीत की घोषणा होने के बाद कार्यकर्ताओं ने जमकर नारे लगाए। इस दौरान, ' ये जवानी है कुर्बान, अखिलेश भइया तेरे नाम। बुआ-भतीजा जिंदाबाद।' प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम ने भी कार्यकर्ताओं को मिठाई खिलाई। खास बात ये दिखी कि कई कार्यकर्ता अखिलेश और मायावती के पोस्टर लेकर पहुंचे। कार्यकर्ताओं ने इस दौरान होली भी खेली।


अब राज्यसभा का चैलेंज

सपा-बसपा के सामने अब राज्यसभा चुनाव में दसवें कैंडिडेट को जिताने का चैलेंज है।बसपा ने पूर्व विधायक भीमराव अंबेडकर को अपना राज्यसभा उम्मीदवार घोषित किया था। सपा और कांग्रेस ने भी बसपा कैंडिडेट को समर्थन का ऐलान किया है लेकिन अनिल अग्रवाल के मैदान में उतरने से बसपा की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। सूत्रों के मुताबिक बसपा सुप्रीमो मायावती को डर हैं कि कहीं कांग्रेस के कुछ विधायक क्रॉस वोटिंग न करें। ऐसे में दोनों पार्टियों के नेताओं के बीच बातचीत हुई है जिसके बाद कांग्रेस विधायक दल के नेता अजय कुमार लल्लू ने बसपा प्रत्याशी को समर्थन देने की घोषणा की।


प्रदेश अध्यक्ष को बुलाया दिल्ली

इधर नतीजों से खफा बीजेपी आलाकमान ने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडेय को दिल्ली तलब किया गया है। सूत्रों का कहना है उपचुनाव के नतीजों के बीच महेंद्र नाथ पांडेय को तलब करना आला कमान की नाराज़गी ज़ाहिर करता है। दोनों जगह पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने जमकर प्रचार किया लेकिन फिर भी नतीजे पक्ष में नहीं दिखे। दूसरी तरफ सपा के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम ने चुनाव आयोग को पत्र लिख कर डीएम की कार्यशैली पर सवाल खड़े किये हैं। भारी गड़बड़ी करने की मंशा है सरकार की और अगर ऐसा होता है तो चुनाव आयोग पर से जनता का विशवास उठ जाएगा।

जानें क्या बोले नेता-


हमें उम्मीद नहीं थी कि बीएसपी के वोट इस तरह से एसपी को ट्रांसफर हो जाएंगे। आखिरी नतीजे देखने के बाद हम समीक्षा करेंगे।

-केशव प्रसाद मौर्य, डिप्टी सीएम, यूपी

-फूलपुर व गोरखपुर के नतीजों से आने वाले वक्त की राजनीति का अंदाया लगाया जा सकता है। संकेत साफ हैं। बीजेपी के घमंड को पब्लिक ने चकनाचूर कर दिया है।
-जितिन प्रसाद, पूर्व केंद्रीय मंत्री (कांग्रेस)


-जिन्हें हाथी और साईकिल के गठबंधन पे संदेह था जनता ने आज उन जुमलेबाज़ों की बोलती बंद कर दी! योगी ,मोदी की देशव्यापी हवा ने गोरखपुर और फुलपुर की सीट ही उड़ा दी!
-सुनील सिंह साजन, एमएलसी, सपा

 

 

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned