सीएम योगी आज बड़ा कीर्तिमान करेंगे अपने नाम, प्रदेश में देंगे 1.25 करोड़ रोजगार, पीएम मोदी खुद बनंगे गवाह

वैश्विक महामारी कोरोनावायरस (Coronavirus) के बीच लागू लॉकडाउन (Lockdown) के चलते वापस आए यूपी के कामगारों के लिए आज का दिन बेहद खास है। आज आत्‍म निर्भर उत्‍तर प्रदेश रोजगार अभियान (Atma Nirbhar Uttar Pradesh Rojgar Abhiyan) की शुरुआत होगी।

लखनऊ. वैश्विक महामारी कोरोनावायरस (Coronavirus) के बीच लागू लॉकडाउन (Lockdown) के चलते वापस आए यूपी के कामगारों के लिए आज का दिन बेहद खास है। आज प्रदेश की योगी सरकार 1.25 करोड़ रोजगार देकर बड़ा रिकॉर्ड बनाने जा रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद सीएम योगी आदित्यनाथ की उपस्थिति ऑनलाइन माध्‍यम से आत्‍म निर्भर उत्‍तर प्रदेश रोजगार अभियान (Atma Nirbhar Uttar Pradesh Rojgar Abhiyan) की शुरुआत करेंगे। इस अभियान के पीछे प्रदेश सरकार का मुख्य मकसद प्रवासी और ग्रामीण मजदूरों के लिए बुनियादी सुविधाएं और जीविका के साधन का इंतजाम कराना है। इसके बाद पीएम मोदी यूपी के छह जिलों के ग्रामीणों से संवाद भी करेंगे। प्रदेशभर के ग्रामीण सामुदायिक सेवा केंद्र और कृषि विज्ञान केंद्रों के माध्‍यम से इस कार्यक्रम से जुड़े सकेंगे।


लॉकडाउन में लाखों मजदूरों ने की वापसी

आपको बता दें कि लॉकडाउन के दौरान तकरीबन करीब 30 लाख प्रवासी मजदूर यूपी के 31 जिलों में बाहर के राज्यों से वापस आए हैं। योगी सरकार ने ऐसे लोगों को अपने क्षेत्रों में ही रोजगार उपलब्‍ध कराने की मुहिम छेड़ी है। इसके लिए केंद्र सरकार के सहयोग से राज्‍य सरकार, उद्योगों और अन्‍य संगठनों के साथ पार्टनरशिप कर रही है। इस अभियान का मुख्य मकसद स्‍थानीय स्‍तर पर रोजगार उपलब्‍ध कराने के साथ प्रदेश में उद्यमशीलता को बढ़ावा देना है। औद्योगिक संगठनों के साथ साझेदारी कर सरकार प्रदेश में रोजगार के नए अवसरों को भी पैदा करना चाहती है। दरअसल योगी सरकार की कोशिश है कि जो भी कामगार लॉकडाउन के समय प्रदेश में वापस आए हैं, अब वह दोबारा पलायन न करें और यूपी में ही रहकर अपनी जीविका चलाएं। जिससे प्रदेश की प्रगति भी हो सके। ऐसे में आज का आत्‍म निर्भर उत्‍तर प्रदेश रोजगार अभियान इन कामगारों के लिए काफी महत्वपूर्ण है।

 

यह भी पढ़ें: यूपी में सक्रिय हुआ मानसून, अगले इतने दिनों तक जारी रहेगी गरज चमक के साथ तेज बारिश, मौसम विभाग का अलर्ट जारी

 

Narendra Modi
नितिन श्रीवास्तव Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned