पीएम मोदी के ऐलान के बाद सीएम योगी ने जनता कर्फ्यू को लेकर लोगों से किया आग्रह

पीएम मोदी ने कोरोना के संक्रमण को लेकर देश की जनता को संबोधित किया और बड़ा ऐलान करते हुए यूपी समेत पूरे देश से 22 मार्च को जनता कर्फ्यू लगाने का बात कही।

By: Abhishek Gupta

Updated: 19 Mar 2020, 10:50 PM IST

लखनऊ. पीएम मोदी ने कोरोना के संक्रमण को लेकर देश की जनता को संबोधित किया और बड़ा ऐलान करते हुए कहा कि पूरे देश से 22 मार्च को जनता कर्फ्यू लगाने का बात कही। उन्होंने कहा कि कोरोना इफेक्ट के चलते 22 मार्च को जनता कर्फ्यू लगेगा। जनता कर्फ्यू यानी जनता के द्वारा, खुद पर लगाया गया कर्फ्यू। 22 मार्च रविवार सुबह से सात बजे से रात नौ बजे तक सभी को जनता कर्फ्यू का पालन करना है। सीएम योगी ने भी इसको लेकर यूपी की जनता से आग्रह किया। उन्होंने कहा कि कोरोना की वैश्विक महामारी से बचाव के लिए प्रधानमंत्री ने आगामी रविवार 22 मार्च को सुबह 7 बजे से रात 9 बजे तक जनता-कर्फ्यू के पालन का आह्वान किया है। आइये, हम सब संगठित होकर देश हित में इस कर्तव्य पालन का संकल्प लें।

पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कहा का जनता कर्फ्यू के दौरान घर से निकलना प्रतिबंधित होगा। साथ ही शाम को 5 बजे पूरे पांच मिनट के लिए सभी देशवासी अपने-अपने घर की बाल्कनी में खड़े होकर तालियां या घंटी बजाकर कोरोना से लड़ाई लड़ रहे लोगों का अभिनंदन करना है।

देशवासी घर से बाहर न निकलें-

उन्होंने कहा कि आने वाले कुछ सप्ताह तक घर से देशवासी बाहर न निकलें। जब तक बहुत जरूरी न हो। बुजुर्ग घर से न निकलें। 130 करोड़ देशवासी संकल्प लें कि अपने कर्तव्य का पालन करेंगे। केंद्र व राज्य सरकार के दिशा-निर्देशों का पालन करेंगे। खुद संक्रमित होने से बचेंगे और दूसरों को भी संक्रमित होने से बचाएंगे।

कुछ समय चाहिए, कुछ हफ्ते चाहिए- पीएम

इससे पूर्व पीएम मोदी ने कहा कि इस संकट ने विश्व की मानव जाति को संकट में डाल दिया है। विश्व युद्ध एक और दो में भी इतने लोग प्रभावित नहीं हुए थे, जितना कोरोना से हो रहे हैं। भारत ने इसका डटकर सामना किया है। लेकिन फिलहाल निश्चिंत होना सही नहीं है। सभी का सतर्क रहना आवश्यक है। मुझे देशवासियों ने निराश नहीं किया, मैंने देश से जो मांगा है, वह मिला है। अब मुझे आपका कुछ समय चाहिए, कुछ हफ्ते चाहिए। इस दौरान उन्होंने कहा कि कोरोना की काट नहीं मिली है। कुछ देशों में शुरुआती दिनों के बाद अचानक संक्रमित लोगों का विस्फोट हुआ है। कुछ देशों ने आवश्यक निर्णय भी लिए हैं। लोगों को आईसोलेट कर स्थिति को संभाला है। इसमें नागरिकों की भूमिका अहम रही है।

हम संक्रमित होने से बचेंगे और बचाएंगे-

पीएम मोदी ने आगे कहा कि हम विकास के लिए प्रगतिशील देश हैं। और हमारे जैसे देश के लिए यह संकट आम बात नहीं है। भारत में इसका असर नहीं पड़ेगा यह मानना गलत है। यहां दो बांते जरूरी है। संयम और संकल्प- यह दोनों जरूरी है। हमें इस वैश्विक महामारी रोकने के लिए नागरिक होने के नाते सभी दिशा निर्देशों का पालन करना है। हम संक्रमित होने से बचेंगे और बचाएंगे।

हम स्वस्थ तो जगत स्वस्थ्य-

पीएम मोदी ने कहा कि हम स्वस्थ तो जगत स्वस्थ्य, खुद के स्वस्थ बने रहने के लिए प्रयास करें। भीड़ से बचना, घर से निकलने से बचना जरूरी है। सोशल डिस्टेंस जरूरी है और कारगर भी है। संकल्प और संयम कोरोना को रोकने में बड़ी भूमिका निभाने वाला है। कुछ सप्ताह तक जब बहुत जरूरी हो तभी घर से बाहर निकले। हो सके तो घर से ही अपना काम करें। आम लोगों को खुद को आईसोलेट कर लेना चाहिए। सीनीयर सिटिजन कुछ सप्ताह तक घर से बाहर न निकलें।

coronavirus pm modi
Abhishek Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned