जाने आखिर पढ़ा लिखा युवक कैसे बन गया शातिर अपराधी

आरोपियों के पास से तमंचा, 94,000 रुपये, दो लोहे की छड़ व पांच बाइक बरामद हुई हैं।

 

By:

Updated: 18 Aug 2017, 03:21 PM IST

कन्नौज. जिले समेत अलग-अलग जगहों पर लूटपाट करने वाले गैंग के चार शातिर बदमाशों को आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर फगुहा भ_ा पुल के नीचे से गिरफ्तार किया गया। आरोपियों के पास से तमंचा, 94,000 रुपये, दो लोहे की छड़ व पांच बाइक बरामद हुई हैं। पूछताछ में आरोपियों ने जिला समेत औरैया, कानपुर देहात व मध्य प्रदेश के भिंड में लूट की घटनाएं कबूली हैं। लुटेरों में लूट की घटनाओं को अंजाम देने वाले रजनीश जाटव नाम के एक शातिर अपराधी ने बताया कि वह पढ़ा लिखा है, उसने बीए तक पढ़ाई की है। 

पुलिस ने लुटेरा गैंग का खुलासा करते हुए बताया कि अलग-अलग जगहों पर लूटपाट करने वाले गैंग के चार शातिर बदमाशों को आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर फगुहा भ_ा पुल के नीचे से गिरफ्तार किया गया। जिसमें जिला औरैया के थाना अजीतमल ग्राम प्रतापपुर निवासी रजनीश, थाना औरैया के मोहल्ला गोावद नगर निवासी गौरव तिवारी, प्रेमानंद आश्रम खानपुर चौराहा निवासी सौरभ सक्सेना व मोहल्ला तिलक नगर निवासी रवीन्द्र बाथम को पकड़ा।

लुटेरों ने 12 जुलाई 2017 को थाना गुरासहायगंज के तेरारागी निवासी सहायक विकास अधिकारी से 1.30 लाख की लूट की थी। इसी तरह छह जुलाई 2017 को सदर कोतवाली के अहमदपुर रौनी निवासी नूरुल अली से 16,140 रुपये से भरा झोला छीना था। 28 जून, 2017 को थाना ठठिया के भगवानपुर निवासी राम ङ्क्षसह की डिग्गी से 80 हजार रुपये पार किए थे जबकि तीन अगस्त 2017 को कानपुर देहात के थाना रूरा स्थित गुलाबपुर निवासी चरन सिंह सब्जीमंडी में एक लाख रुपये छीनकर भागे थे।

इनके खिलाफ जिला समेत अन्य जगहों पर एक दर्जन मुकदमे हैं। लुटेरों में लूट की घटनाओं को अंजाम देने वाले रजनीश जाटव नाम के एक शातिर अपराधी ने बताया कि वह पढ़ा लिखा है, उसने बीए तक पढ़ाई की है। पुलिस के हत्थे चढऩे के बाद अब वह पछता रहा है और इसका दोषी अपने साथी दीपू राजपूत को मान रहा है कि उसके ही कारण आज वह गलत संगत में पड़कर यहां तक पहुँच गया है।

 

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned